12 कमरे जले, 50 लाख का नुकसान

कमांद में शार्ट सर्किट से सुलगी चिंगारी; तीन परिवार बेघर, कुछ भी बचाने का मौका तक न मिला

सुंदरनगर – सुंदरनगर उपमंडल के तहत आने वाली ग्राम पंचायत दुमट बैहली के कमांद गांव में आगजनी की घटना से 12 कमरों का दो मंजिला मकान जलकर राख हो गया है। जिससे 50 लाख रुपए का नुकसान होने का आंकलन लगाया गया है। प्रशासन की ओर से प्रभावित तीनों भाइयों को 10-10 हजार रुपए और तिरपाल दी गई है। जानकारी के अनुसार सुबह तड़के लगी आग पर जब तक ग्रामीण काबू पाया, तब तक घर के अंदर रखा तमाम सामान जलकर पूरी तरह राख हो गया। शरीर के ऊपर जो कपड़े पहने थे, वहीं शेष बचे रहे, बाकी सब स्वाह हो गया। परिवार की घर से 12 बलटूही और राख शेष बची है।  स्थानीय उपप्रधान शिव राम, चिंत राम व सर्व दिले राम ने बताया कि मंगलवार सुबह ही दुमट बहली पंचायत के कमाद गांव में गुजा राम के तीन बेटों लोकराज, खिंदू राम और सुंका राम के संयुक्त 12 कमरों के दो मंजिला मकान में अचानक आग  लग  गई।  आग लगते ही स्थानीय ग्रामीणों ने मवेशियों को तुरंत बाहर निकाल लिया । धू-धू कर जल रहे घर को बचाने में ग्रामीणों ने जी तोड़ मेहनत की । लोगों ने तुरंत आईपीएच के स्टोरेज टैंक से पाइप जोड़ कर आग बुझाने का भरकस प्रयास किया, लेकिन देखते ही देखते आग ने तीन परिवारों का तमाम समान राख के ढेर में बदल दिया। आग लगने के कारणों का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है। लेकिन बताया जा रहा है कि उस समय तूफान चल रहा था चला और शॉर्ट सर्किट ंसे यह हादसा पेश आया है। मकान सड़क से आधा किलोमीटर दूर होने व सड़क मार्ग ठीक नहीं होने के कारण अग्निशमन वाहन कसे आने में सुविधा भी नहीं मिल पाई है।  सुंदरनगर एसडीएम डाक्टर अमित कुमार शर्मा ने सूचना मिलते ही राजस्व अधिकारियों को फौरी राहत सहित राहत कार्यों के लिए घटनास्थल पर रवाना कर दिया है। वहीं तहसीलदार निहरी रमन ठाकुर ने प्रभावित तीनों भाइयों को 10-10 हजार रुपए व तिरपाल फौरी राहत के रूप में प्रदान कर दिया है। उधर, विधायक राकेश जम्वाल ने विश्वास दिलाया है कि प्रभावित परिवार की सरकार की ओर से हरसंभव मदद की जाएगी। उन्होंने इस घटना पर दुख व्यक्त किया।

You might also like