17 दवाओं की कीमतें कम

एनपीपीए ने किया संशोधन; रक्तचाप, संक्रमण की दवा, टेटनस इंजेक्शन शामिल

  बीबीएन —नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथारिटी (एनपीपीए) ने 17 आवश्यक दवाओं की खुदरा कीमतें घटाई हैं। जिन दवाओं की कीमतों में संशोधन किया है, उनमें उच्च रक्त चाप, संक्रमण, दर्द निवारक दवाओं सहित टेटनस के इंजेक्शन शामिल हैं। नियामक ने कीमतों में यह संशोधन औषधि (कीमत नियंत्रण) आदेश, 2013 के तहत किया है। जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) द्वारा जारी अधिसूचना में 17 अनुसूचित दवाओं के खुदरा मूल्य तय किए गए हैं। एनपीपीए ड्रग (मूल्य नियंत्रण) आदेश (डीपीसीओ) 2013 के तहत अनुसूची एक में शामिल आवश्यक दवाओं का अधिकतम मूल्य तय करता है। जो दवाएं मूल्य नियंत्रण के तहत नहीं आती हैं, उसके निर्माताओं को सालाना 10 फीसदी खुदरा मूल्य बढ़ाने की अनुमति है। नियामक ने जिन औषधियों के खुदरा मूल्य को तय किया है, उनका विनिर्माण एवं विपणन विभिन्न कंपनियां करती हैं। एनपीपीए के मुताबिक टेटनस इंजेक्शन के 0.5 एमएल पैक की कीमत अब 10.61 व 5 एमएल पैक की कीमत 22.94 रुपए होगी। आईबूप्रोफेन 200 मिलीग्राम के प्रति  जिलेटिन कैप्सूयल की कीमत 2.62 रुपए तय क ी गई है। इसके अलावा एंटी एलर्जिक क्रीम की कीमत प्रति ग्राम 30.89 रुपए होगी। आदेश मे स्पष्ट किया गया है कि विनिर्माता तय की गई कीमत से ज्यादा नहीं वसूल सकते। अगर ज्यादा राशि वसूल की जाती है, तो औषधि (कीमत नियंत्रण) आदेश, 2013 के प्रावधानों के तहत ब्याज सहित ओवरचार्ज की गई राशि विनिर्माता को जमा करवानी होगी।

You might also like