40 डिग्री…एसी-कूलर दे गए जवाब

घुमारवीं—बिलासपुर जिला के लोग प्रचंड गर्मी की तपिश में उबल रहे हैं। गर्मी से जिला के लोग बेहाल है। लू के थपेड़ों ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। गर्मी से बचने के लिए आफिसों व घरों में लगाए गए एसी-कूलर जवाब देने लगे हैं। आसमान से तीन दिन पहले हुई हलकी बारिश के बाद भी लोगों को प्रचंड गर्मी से राहत नहीं मिल रही है। इससे लोग अब प्री-मानसून के बेसब्री से इंतजार में है। लोग भगवान से बारिश देकर लोगों को गर्मी से राहत देने की प्रार्थना कर रहे हैं। बिलासपुर जिला का शनिवार को अधिकतम तापमान 40 डिग्री तक पहुंच गया। लोग सूरज की 40 डिग्री की तपिश से तपते रहे। आसमान से पड़ रही गर्मी लोगों पर सितम ढ़ा रही है। लू के थपेड़े शूल की तरह चुभ रहे हैं। लोगों को घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है। पारा तेजी से बढ़ने के साथ ही गर्मी का असर भी बढ़ गया। जिला में पड़ रही बदन झुलसा वाली गर्मी से बाजारों से रौनक गायब रही। तपती दोपहरी में लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। बदन झुलसा देने वाली गर्मी से नौनिहालों व बुजुर्गों को अधिक दिक्कत झेलनी पड़ रही है। जानकारी के मुताबिक बिलासपुर जिला में तीन दिन पहले हुई हल्की बारिश से कुछ राहत मिली थी, लेकिन अगले दिन ही भगवान सूर्य देव ने अपने तेवर दिखाना शुरू कर दिया। जिला में पड़ रही प्रचंड गर्मी से लोगों को घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है। तेज धूप व गर्म हवाओं ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। इस गर्मी में लोग पसीना-पसीना हो रहे हैं। हालात यह रहे कि रात तक गर्म हवाओं का अहसास हो रहा है। कूलर-पंखों से भी लोगों को राहत नहीं मिल रही है। मौसम विभाग की मानें तो प्री-मानूसन की बारिश एक-दो दिनों में होने वाली है। इससे लोगों को प्रचंड गर्मी से भी राहत मिलेगी। बताते चलें कि जिले में लोगों को रात को भी गर्मी से राहत नहीं मिल रही है। रात का तापमान भी 30 से 32 डिग्री से ऊपर पहुंच रहा है। गर्मी से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। 

गर्मी से बीमार पड़ने लगे नौनिहाल

बिलासपुर जिला में पड़ रही प्रचंड गर्मी व लू से सबसे अधिक नौनिहाल व बुजुर्ग तडफ़  रहे हैं। नौनिहाल ठीक ढंग से पूरी नींद भी नहीं पा रहे हैं। गर्मी से नौनिहाल बीमार पड़ रहे हैं।

You might also like