475 छात्रों ने दिया स्क्रीनिंग टेस्ट

 बिलासपुर—जिला में प्रशासन और शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्त्वावधान में चलाए जा रहे सगुन कार्यक्रम के लिए टेस्ट प्रक्रिया शुरू की गई है। मंगलवार को जिला के जमा एक और जमा दो कक्षाओं के विज्ञान संकाय के 475 विद्यार्थियों ने 28 स्कूलों में सगुन इन स्कूल स्क्रीनिंग टेस्ट दिया। उपायुक्त राजेश्वर गोयल ने बताया कि इस टेस्ट में दसवीं कक्षा में 75 प्रतिशत अंक और जमा एक व जमा दो कक्षाओं में 60 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों ने भाग लिया। उन्होंने बताया कि इस टेस्ट प्रक्रिया मंे लगभग 100 से अधिक विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा, जिन्हें चंडीगढ स्थित ऐलन कोचिंग संस्थान के प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि दसवीं बोर्ड परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर उत्तीर्ण होने वाले जिला के सरकारी स्कूलों के छात्रों के भविष्य को संवारने के लिए डीसी बिलासपुर ने नई पहल शुरू की है। एलन करियर इंस्टीच्यूट चंडीगढ़ के सौजन्य  से जिला प्रशासन होनहारों के लिए सगुन (सरल एवं गुणात्मक शिक्षा) स्क्रीनिंग टेस्ट का आयोजन किया है। इसमें एलन करियर इंस्टीच्यूट की फैकेलिटी इनके हुनर को परख रही है। इस परीक्षा में बैठने वाले जिला भर के छात्रों में से टॉप 100 होनहार छात्रों का चयन होगा। इन चयनित छात्रों को ऐलन करियर इंस्टीच्यूट चंडीगढ़ द्वारा कोचिंग दी जाएगी व इनके भविष्य को संवारने में मद्द की जाएगी। उपायुक्त बिलासपुर राजेश्वर गोयल ने बताया कि सरल एवं गुणात्मक शिक्षा (सगुन) के नाम से यह स्क्रीनिंग टेस्ट शुरू किया जा रहा है। इसमें सरकारी स्कूलों के होनहारों को ही आवेदन करने का मौका मिलेगा। स्क्रीनिंग टेस्ट में अव्वल रहने वाले 100 होनहारों को ऐलन इंस्टीच्यूट रियायती दर पर प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम, सेमिनार और कार्यशाला प्रदान करेगा। इसके अलावा बेटियों के भविष्य को उज्ज्वल करने के लिए प्रशासन दसवीं के बाद बेटियों को भविष्य में उनका करियर चुनने के लिए टिप्स देगा। होनहार बेटियों की करियर काउंसिलिंग की जाएगी और वो भी बिलकुल निःशुल्क।

You might also like