556 पोस्ट के अभ्यर्थी मुख्यमंत्री के दर

अर्की—हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर द्वारा जूनियर आफिस असिस्टेंट पोस्ट कोड 556 में चयनित अभ्यर्थियों का एक प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से सचिवालय में मिला। प्रतिनिधिमंडल ने सरकार से माननीय उच्च न्यायालय द्वारा सरकार व हमीरपुर बोर्ड को दिए गए आदेशों का पालन करवाने का आग्रह किया। जिसमें माननीय उच्च न्यायलय द्वारा आर एंड पी के तहत निकाले गए परिणाम में चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्तियां देने के आदेश दिए थे, लेकिन हमीरपुर बोर्ड अब नियुक्तियां देने में देर कर रहा है। मुलाकात करने पंहुचे चयनित अभ्यर्थियों के प्रतिनिधिमंडल को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शीघ्र अति शीघ्र भर्ती करने का आश्वासन दिया है। प्रतिनिधि मंडल ने बताया कि जूनियर आफिस असिस्टेंट पोस्ट कोड 556 में चयनित अभ्यर्थियों की भर्ती पिछले तीन सालों से लटकी हुई है जिस पर तरह-तरह के केस लगे हुए थे। लेकिन 23 फरवरी को अंतिम परिणाम जारी किया गया है जो कि न्यायालय के आदेशों के अनुसार सख्ती से आर एंड पी नियम लागू करने के बाद आया है। जिसमें 596 अभ्यर्थियों को चयनित घोषित किया गया था तथा योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण 560 पद रिक्त रह गए। किंतु उसके बाद अमान्य डिप्लोमा और हायर डिग्री धारक अभ्यर्थी जो आर एंड पी नियम में न आने के कारण बाहर कर दिए गए थे, उन्होंने ट्रिब्यूनल कोर्ट में फरवरी माह में रिजल्ट आने पर फिर से एक केस कर के उच्च न्यायालय में लंबित एक अन्य केस का हवाला देते हुए नियुक्तियों पर रोक की मांग की। ट्रिब्यूनल कोर्ट ने इस पर चयन आयोग को यथा स्थिति बरकरार रखने के आदेश दिए। मुख्यमंत्री से मिले आश्वासन के बाद चयनित अभ्यर्थियों को शीघ्र नियुक्तियां मिलने की आस जगी है। प्रतिनिधि मंडल में अनिता शर्मा, राजेंद्र छाजटा, कमल, प्रकाश, मनोरमा, वरुण, अशोक, अंकुश, दीक्षा, चुन्नीलाल, पुष्प ठाकुर, सीता राम, नरेश, पुष्पा, रचना, दीपक राणा सहित पूरे प्रदेश से 100 से ज्यादा चयनित अभ्यार्थी मुख्यमंत्री से मिलने शिमला पहुंचे थे।

You might also like