आज मनाया जाएगा गुरु पूर्णिमा महोत्सव

कुल्लू—सूत्रधार कलासंगम गुरु पूर्णिमा महोत्सव मना रहा है। कार्यक्रम को लेकर संस्था ने तैयारियां पूरी कर दी है। बता दें कि अपने स्थापना वर्ष 1977 से लेकर आजतक सूत्रधार कला संगम कुल्लू द्वारा निरंतर यह प्रयास रहा है कि उभरती हुई प्रतिभाओं को विकसित करने के साथ-साथ कला तथा संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्द्धन का किया जाना अति आवश्यक है।  इसी प्रयास के अंतर्गत संस्था द्वारा वर्ष भर में गीत-संगीत, लोककला, नाटक तथा आधुनिक नृत्य व समाज सेवा के क्षेत्र में अनेक कार्यक्रमों का आयोजन करवाया जाता है। संस्था अध्यक्ष दिनेश सेन ने जानकारी देते हुए कहा कि इस बार 14वां गुरुपूर्णिमा महोत्सव देवसदन कुल्लू के सभागार में 16 जुलाई 2019 मंगलवार को सायं पांच बजे से रात्रि नौ बजे तक मनाया जाएगा। जिसमें समाजसेवी सुभाष चंद्र शर्मा चेयरमैन एसी सोहन कुल्लू सिटी एवं सुभाष इलेक्ट्रिकल कुल्लू मुख्यातिथि के रूप में शिरकत करेंगे। गुरु पूर्णिमा का दिन विशेष रूप से शिष्यों द्वारा उनके गुरु के सम्मान में समर्पित होता है। इसी कड़ी में सूत्रधार संगीत अकादमी के प्रशिक्षु भी अपने गुरु पंडित विद्यासागर शर्मा के सम्मान में समर्पित इस कार्यक्रम में गीत संगीत व नृत्य की प्रस्तुतियां देंगे। इन्होंने अनेकों कार्यक्रमों में अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित किया है, जिनमें से मुख्य कार्यक्रम रूस, ओमान और भारत के अनेक प्रांतों जैसे तमिलनाडु, महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, चैन्नई, आसम, छत्तीसगड़, पटना, हैदराबाद, चंडीगढ़ इत्यादि भी शामिल है। इनके द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर चैन्नई में हारमोनियम वादन में रजत पदक तथा छतीसगढ़ में लोकगीत विधा में स्वर्ण पदक तथा इसके अलावा कई बार राज्य स्तर पर हारमोनियम व तबला वादन में स्वर्ण पदक प्राप्त किया है। इनको कई उपाधियों जैसे संगीत शिरोमणि, गानचरिक, आजीवन उपलब्धि तथा युवा पुरस्कार इत्यादि पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया है। गौरतलब है कि संस्था जहां हिमाचली लोक संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्द्धन कर रही है वहीं वर्ष 2005 से शास्त्रीय संगीत के क्षेत्र में भी इस संस्था द्वारा निरंतर प्रशिक्षण के साथ-साथ समय-समय पर संगीतमय कार्यक्रमों के आयोजन किए जा रहे हैं।

You might also like