उपप्रधान ने पीटा ग्रामीण, टांडा रैफर

पटड़ीघाट—उपमंडल सरकाघाट की ग्राम पंचायत गैहरा के ऋषिकेष पुत्र दीनानाथ की बेरहमी से पिटाई करने के आरोप पंचायत के उपप्रधान पर लगे हैं। ऋषिकेष ने इस संबंध में बाकायदा पुलिस में शिकायत भी दर्ज करवाई है। मारपीट के बाद गंभीर रूप से जख्मी हुए ऋषिकेष को सरकाघाट अस्पताल के बाद नेरचौक मेडिकल कालेज रैफर किया गया था, जिसके बाद उसे आगे के इलाज के लिए टांडा भेज दिया गया है। वहीं सरकाघाट पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच कार्य शुरू कर दिया है। जानकारी के अनुसार ऋषिकेष गैहरा पंचायत के सैलग गांव में अपने परिवार सहित रहता है। ऋषिकेष पेशे से चालक है और सारा दिन घर से बाहर रहता है। पुलिस को दी शिकायत में ऋषिकेष ने बताया है कि वह सामान लेने के लिए गांव की दुकान पर आया था। इसी बीच गैहरा पंचायत के उपप्रधान अमीचंद पुत्र बंसीलाल ने सड़क में डंगे के काम के लिए रखे पानी के टैंक को खाली करने के आरोप लगाते हुए मेरी पिटाई शुरू कर दी। पिटाई के कारण ऋषिकेष बेहोश भी हो गया। इस बारे में जब परिजनों को पता लगा तो उन्होंने उसे नागरिक अस्पताल सरकाघाट पहुंचाया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे नेरचौक मेडिकल कालेज भेज दिया गया, लेकिन कान में गंभीर चोट लगे होने की वजह से उसे टांडा मेडिकल कालेज भेज दिया गया है। वहीं डीएसपी चंद्रपाल सिंह ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। पंचायत उपप्रधान ने बताया कि ऋषिकेष लगातार सड़क के काम में कई दिनों से व्यवधान पैदा कर रहा है। उन्होंने उसे समझाया है और कोई मारपीट नहीं की है। लगाए गए सारे आरोप झूठे हैं।

You might also like