उम्मीद की किरण नई शिक्षा नीति

 लक्की, रोहड़ू, शिमला

केंद्र सरकार ने फिर से सत्ता में आने के बाद  नई शिक्षा नीति बनाई है, वह शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने का एक अथक प्रयास है। यकीनन नई शिक्षा नीति से शिक्षा के क्षेत्र में बहुत सुधार होगा। शिक्षा के क्षेत्र में हमारा देश अन्य देशों की तुलना में काफी पीछे है। सरकारी स्कूलों की अपेक्षा निजी स्कूलों को अधिक प्राथमिकता देना और निजी स्कूलों द्वारा अभिभावकों से मनमानी फीस वसूलना  आदि समस्याओं पर नई शिक्षा नीति एक प्रहार है। दूसरी ओर अध्यापक बनने की चाह रखने वाले युवा वर्ग के मन में नई प्रणाली के तहत अध्यापक पात्रता परीक्षा से संबंधित कई सवाल हैं। अतः सरकार को ड्राफ्ट में कुछ फेरबदल करने की आवश्यकता है, ताकि बेरोजगारी की समस्या पर लगाम लग जाए।

 

You might also like