ऊना थाना पहुंचा कचरे का  विवाद

ऊना—नगर परिषद ऊना के मलाहत में सेग्रीगेटिड गारबेज फेंकने को लेकर चल रहा विवाद अब पुलिस थाना पहुंच गया है। नगर परिषद ऊना को कहीं पर भी गारबेज ठिकाने लगाने के लिए साइट नहीं मिल रही है। हालांकि नगर परिषद ऊना के पास रामपुर में डंपिंग साइट है, लेकिन वहां पर रास्ता दयनीय होने के चलते गारबेज पहुंचाना मुश्किल भरा है। वहीं, नगर परिषद की ओर से बहडाला में भी कूड़ा-कचरा से बिजली बनाने का प्रोजेक्ट है, लेकिन यहां पर भी नगर परिषद को विरोध का सामना करना पड़ रहा है। मलाहत में नगर परिषद द्वारा सेग्रीगेटिड गारबेज ठिकाने लगाया जाना है। बाकायदा यहां पर नगर परिषद द्वारा 50 लाख रुपए की राशि खर्च कर सोलिड वेस्ट मेनेजमेंट प्लांट लगाया गया है, ताकि सेग्रीगेटिड गारबेज से खाद तैयार की जा सके, लेकिन यहां पर भी अब नगर परिषद को विरोध का सामना करना पड़ा है। अब यहां पर भी लोगों के विरोध के चलते गारबेज फेंकने नहीं दिया जा रहा है। इसके चलते अब नगर परिषद ऊना को सेग्रीगेटिड गारबेज ठिकाने लगाने के लिए कोई भी विकल्प नहीं बचा हुआ है। जानकारी के अनुसार नगर परिषद ऊना के कर्मी मलाहत में सेग्रीगेटिड गारबेज फैंकने गए लेकिन यहां पर स्थानीय लोगों ने विरोध किया। स्थानीय लोगों द्वारा नगर परिष्द की ट्रैक्टर ट्राली को भी कब्जे में ले लिया। इसके चलते नगर परिषद की ओर अपनी शिकायत पुलिस प्रशासन से भी की है। शिकायत मिलने के बाद पुलिस टीम ने भी निरीक्षण किया। वहीं, स्थानीय लोगों के बयान भी कलमबद्ध किए। अब यहां पर स्थानीय लोगों के विरोध के चलते सेग्रीगेटिड गारबेज ठिकाने नहीं लगाने दिया जाएगा। बताया जा रहा है कि नगर परिषद के कर्मी जैसे ही सेग्रीगेटिड गारबेज की ट्राली लेकर मलाहत पहुंचे तो वहां पर स्थानी लोगों के साथ विवाद हो गया। इसके चलते नगर परिषद के नुमाइंदे भी मौका पर पहुंचे। लेकिन विवाद खत्म नहीं हुआ। इसके चलते अब नगर परिषद ने पुलिस प्रशासन का दरवाजा खटखटाया है। वहीं, प्रशासन की ओर से इस ओर कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। गारबेज ठिकाने लगाने की समस्या को लेकर भी उचित कदम उठाए जाने चाहिए। वहीं, नप अध्यक्ष ऊना अमरजोत सिंह बेदी ने कहा कि नगर परिषद की ओर से पुलिस के पास शिकायत दी गई है। वहीं, गारबेज ठिकाने लगाने के लिए कोई भी विकल्प नहीं दिख रहा है। जिसके चलते नगर परिषद की समस्या बढ़ने लगी है। प्रशासन से भी इस समस्या का समाधान करने का आग्रह किया है। वहीं, डीएसपी हैडक्वार्टर अशोक वर्मा ने कहा कि पुलिस के पास नगर परिषद की शिकायत पहुंची है। शिकायत के आधार पर मामले की जांच की जा रही है।

You might also like