एक साल बाद बड़ा भंगाल का रास्ता बहाल

सेटेलाइट फोन की व्यवस्था भी हुई सुचारू, जिला प्रशासन ने खच्चरों से पहुंचाया वर्ष भर का राशन

धर्मशाला – आखिरकार एक साल बाद बड़ा भंगाल का रास्ता बहाल हो गया है। जिला के दुर्गम क्षेत्र में बसे बड़ा भंगाल के लोग लंबे समय से देश दुनिया से कटे हुए थे, लेकिन नए डीसी राकेश प्रजापति ने विशेष योजना के तहत काम करते हुए बड़ा भंगाल के लिए पैदल मार्ग को बहाल करवा दिया है। इतना ही नहीं, उनके सेटेलाइट फोन को भी ठीक कर जनता को जिला ही नहीं, देश दुनिया से जोड़ दिया है। उपायुक्त ने जनता को सुविधा देने के साथ-साथ प्रदेश सरकार की भी लाखों रुपए की बचत की है। पिछली बार वहां हेलिकाप्टर से राशन पहुंचाने के लिए करीब एक करोड़ का खर्च आया था, लेकिन इस बार सारा राशन खच्चरों से भेजकर कर लाखों की बचत की गई है। करीब 18 हजार फुट की ऊंचाई पर स्थित थमसर जोत के बाद आने वाले अति दुर्गम गांव बड़ा भंगाल का पैदल रास्ता एक साल बाद बहाल हो गया है। पिछली बरसात के बाद भारी भूस्खलन के चलते बड़ा गांव से बड़ा भंगाल को जाने वाला पैदल रास्ता क्षतिग्रस्त हो गया था। एक साल से क्षतिग्रस्त पैदल रास्ता दुरूस्त नहीं हो पा रहा था। क्षेत्र के लोगों ने इस मामले को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के समक्ष उठाया था। मुख्यमंत्री के निर्देशों पर डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति ने एक माह के भीतर अति दुर्गम पैदल रास्ते को खुलवा दिया। प्रशासन की तकनीकी टीम के दिशा-निर्देशों के तहत करीब 24 गोरखाली लोगों की टीम ने रास्ते को पैदल चलन योग्य बनाया है। रास्ता बनने के बाद प्रशासन ने खच्चरों पर एक साल का राशन बड़ा भंगाल पहुंचाया है। बड़ा गांव में वर्तमान में करीब 500 से अधिक लोग रहते हैं। इससे पहले बड़ा भंगाल तक संपर्क मार्ग पूरी तरह कट चुका था। एमर्जेंसी के दौरान हेलिकाप्टर ही बड़ा भंगाल पहुंचने का एकमात्र जरिया था। क्षतिग्रस्त पैदल रास्ते को दुरुस्त करने में सरकार का करीब 10 से 15 लाख रुपए खर्चा आया है। डीसी कांगड़ा ने बड़ा भंगाल में पिछले कुछ महीने से खराब पड़े सेटेलाइट फोन को भी ठीक करवा दिया है। अब बड़ा भंगाल के लोग सैटेलाइट फोन के जरिए प्रशासन और अपने परिजनों से संपर्क कर सकेंगे।

बिजली की समस्या भी हल होगी

उपायुक्त अब वहां बिजली की प्रमुख समस्या का समाधान करने की योजना पर काम कर रहे हैं। जिला प्रशासन वहां सौर संयंत्र लगाने पर विचार कर रहा है। लोगों से वार्तालाप के लिए वी सेट लगाने को लेकर भी काम चल रहा है।

You might also like