काम के लिए आमरण अनशन

बालीचौकी—मनरेगा मजदूरों को काम न देने व अन्य मांगों को लेकर कामगार संगठन अध्यक्ष व जिला परिषद सदस्य संतराम व नारी सभा ने बालीचौकी में आमरण अनशन शुरू कर दिया है। कामगार संगठन के अध्यक्ष संतराम ने बताया कि  विकास खंड सराज व बालीचौकी में हजारों मनरेगा मजदूरों द्वारा आवेदन के बाद न तो आवेदन प्राप्ति रसीदंे दी जा रही हैं और न ही मजदूरों को काम दिया जा रहा है। कई वर्षों से मनरेगा मजदूरों की मजदूरी भी नहीं मिल रही है। उन्होंने कहा कि विकास खंड बालीचौकी की ग्राम पंचायत खलवाहन  में 74 मनरेगा मजदूरों ने 19 जून को काम के लिए आवेदन किया था, लेकिन इनमजदूरों को अब तक मनरेगा में काम नहीं दिया गया है। बता दें कि इससे पहले कामगार संगठन ने पहली जुलाई को इन मांगों को लेकर रैली निकाली थी और खंड विकास अधिकारी के माध्यम से सरकार को ज्ञापन भेजा था, जिसमें 14 जुलाई तक  मजदूरों की मांगें पूरी न होने की सूरत में आमरण अनशन की चेतावनी दी गई थी, जिसके तहत 15 जुलाई से अब विकास खंड कार्यालय के बाहर संतराम व उनके साथी आमरण अनशन पर बैठ गए हैं। उन्होंने कहा कि जब तक मांगे पूरी नहीं होगी तब तक वह आमरण अनशन से नहीं उठेंगे। उधर, खंड विकास अधिकारी बालीचौकी चेतराम का कहना है कि कामगार संगठन की कुछ मांगे पूरी हो गई हैं और बाकी मांगे भी पूरी कर दी जाएंगी।

You might also like