कुम्मारहट्टी हादसा..जमीन खंगालने का काम शुरू

सोलन—कुम्मारहट्टी में हुए दर्दनाक हादसे के चार दिन बीत जाने के बाद भी विशेष जांच टीम ने मौके पर पहुंच सुराग ढूंढ रही है। गुरुवार को भी एसआईटी द्वारा करीब एक घंटे तक मौके पर जाकर कार्रवाई की है। वहीं एसआईटी भूमि से जुड़े कई कागजात खंगालने शुरू कर दिए है। बता दे कि 15 दिन के भीतर इस हादसे की रिपोर्ट सौंपने के लिए गठित की गई टीमों ने कार्रवाई तेज कर दी है। भूमि से जुड़े हर एक मामले की गहनता से जांच कर टीम द्वारा रिपोर्ट को तैयार कर रही है ताकि चार मंजिला इमारत के गिरने के कारणों का पता चल सके। गौरतलब हो कि रविवार को सायं करीब तीन बजे कुम्मारहट्टी के रुन्दन गांव में चार मंजिला इमारत ध्वस्त हो गई थी। इस दौरान इमारत के तीसरे फ्लोर पर चल रहे सहज तंदूरी ढाबा में 30 से अधिक सेना के जवान मौजूद थे। इसके अलावा 12 सिविलियन लोग भी इस बिल्डिंग में थे। बिल्डिंग के गिरने पर 42 लोग मलबे मंे फंस गए थे जिन्हें लगभग 24 घंटे बाद एनडीआरएफ, सेना के जवान व प्रसासन की टीमों ने मिलकर निकाला था। लेकिन 42 लोगों में से 13 सेना के जवान सहित 1 सिविलियन की जवान चली गई थी। घटना के घटित हो जाने पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने घटनास्थल का दौरा किया था और इस बिल्डिंग के गिरने के कारणों का पता लगाने के लिए मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए थे और इसकी रिपोर्ट 15 दिन में सौंपने को कही थी।

You might also like