चकाचक और समतल होगा सुजानपुर मैदान

सुजानपुर—बरसात के मौसम में सुजानपुर मैदान में घूमने वालों को किसी भी तरह की असुविधा न हो, घास के ऊपर चलते हुए किसी भी तरह के जीव-जंतु के काटने का भय न बना रहे। इसके लिए नगर परिषद सुजानपुर ने मैदान में बढ़े हुए घास को कटवाने का काम शुरू कर दिया है। बाकायदा इसके लिए घास काटने वाली दो मशीनें खरीदी गई हैं, जिनसे घास को काटने का काम शुरू कर दिया गया है। नगर परिषद अधिकारी अशोक पठानिया की अगवाई में टीम नगर परिषद घास को काटने में लगी है। इसके साथ ही मैदान से उस घास को भी खत्म किया जा रहा है, जो जहरीला घास या जिसे कांग्रेसी घास कहा जाता है उसे भी साफ  किया जा रहा है। बताते चलें कि सुजानपुर मैदान में जहरीला घास लगातार लोगों को परेशानी में डालता था इस घास के बीच से गुजरना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन था, क्योंकि जहरीले घास को हाथ लगाते ही बदन में खारिश एवं अन्य त्वचा संबंधी रोग हो जाते थे। सबसे बड़ी बात है कि इस घास को पशु भी खाने में इस्तेमाल नहीं करते हैं, जिसके चलते यह घास लगातार बढ़ रहा था और धीरे-धीरे पूरे मैदान को अपनी चपेट में ले रहा था। नगर परिषद सुजानपुर ने शहर और पूरे प्रदेश के इस ऐतिहासिक मैदान की छवि को सुधारने के लिए व्यापक कदम उठाया है। अब मैदान में उग आए जहरीले एवं अन्य घास को काटकर मैदान पूरी तरह साफ-सुथरा किया जा रहा है। घास कटाई के बाद मैदान पूरी तरह समतल हो जाएगा और यहां पर बैठने, मॉर्निंग वॉक करने वालों के साथ-साथ शाम को टहलने वालों को किसी भी तरह की असुविधा नहीं होगी और न ही उन्हें किसी जंगली जीव-जंतु के काटने का भय बना रहेगा। नगर परिषद अधिकारी अशोक पठानिया ने बताया कि मैदान की सुरक्षा एवं सुंदरता के लिए दो घास काटने की मशीन खरीदी गई है, जिनसे घास काटने का काम शुरू कर दिया गया है।

एसजेवीएनएल ने दी थी घास काटने की मशाीन

उपमंडल अधिकारी सुजानपुर के प्रयासों से नगर परिषद सुजानपुर को घास काटने की मशीन उपलब्ध हो गई है। एसजेवीएनएल के सौजन्य से घास काटने की मशीन उपमंडल अधिकारी कार्यालय को दी गई थी, जिसे सुजानपुर उपमंडल अधिकारी शिवदेव सिंह ने नगर परिषद सुजानपुर को दे दिया है। इस मशीन के सहारे ऐतिहासिक मैदान की सुंदरता को बरकरार रखने के लिए प्रतिदिन घास कटाई का काम किया जाएगा। उपमंडल अधिकारी शिवदेव सिंह ने इस नई घास की मशीन को नगर परिषद अधिकारी अशोक पठानिया के सुपुर्द  कर दिया है। इसके चलते सोमवार को मशीन का सफल प्रशिक्षण भी करवाया गया, जो पूरी तरह सही रहा।

You might also like