जंजैहली पर्यटन महोत्सव का आगाज

वन मंत्री ने किया शोभायात्रा का शुभारंभ

थुनाग – चार दिवसीय जंजैहली पर्यटन महोत्सव गुरुवार से शुरू हो गया है। इस अवसर पर एक शोभायात्रा भी निकाली गई। चार दिन तक चलने वाले इस उत्सव के लिए जंजैहली में प्रदर्शनियां भी लगाई गई हैं। शोभायात्रा में सराज घाटी की शिवरात्रि, सराज घाटी के देवी देवता, सराज घाटी के पलई उत्सव और लोकल डे्रस में नाचते गाते हुए लोक दलों की झलक देखने को मिली। इसके साथ ही शोभायात्रा में पर्यावरण को बचाने की झांकी भी दिखाई गई। शोभायात्रा को वन मंत्री ने हरी झंडी देकर रवाना किया। वहीं, चार दिन तक चलने वाले इस उत्सव में लोकल व्यंजनों और स्थानीय लोगों द्वारा बनाए गए विभिन्न उत्पादों की भी प्रदर्शनियां लगाई गई हैं। इस दौरान गोबिंद सिंह ठाकुर ने कहा कि वन विभाग सराज विधानसभा क्षेत्र में विकास गतिविधियों पर 20 करोड़ रुपए खर्च रहा है। वर्तमान सरकार के कार्यकाल में सराज क्षेत्र के लिए 15 नए बस रूट चलाए गए हैं। कांगणी-शिकारी, शिकारी-कटारू के लिए हैली टैक्सी पैड पर 50 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। सराज क्षेत्र में 27 करोड़ रुपए की लागत से पर्यटक केंद्र का निर्माण किया जा रहा है। वन मंत्री ने महोत्सव के शुभारंभ अवसर पर 19 महिला मंडलों द्वारा निकाली गई झांकी के लिए 10-10 हजार रुपए तथा महोत्सव आयोजन समिति को 25 हजार रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने ढीमकटारू पंचायत के चार युवक मंडलों को वालीबाल व क्रिकेट किट देने, जंजैहली स्कूल में बैडमिंटन कोर्ट तथा इंडोर स्टेडियम बनाने की घोषणा भी की। उन्होंने महोत्सव में लगाई गई प्रदर्शनियों का अवलोकन भी किया। एसडीएम थुनाग सुरेंद्र मोहन शर्मा ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। इस मौके पर वन मंत्री की धर्मपत्नी रजनी ठाकुर, शेर सिंह, भीष्म, पीतांबर, कमल राणा, कमल किशोर, हुक्मा देवी, उपासना पटियाल और टीआर धीमान सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

You might also like