डिजिटल किताबों से पढ़ाई पर मिलेगी 15 फीसदी छूट

कुल्लू—इग्नू अध्ययन केंद्र पर विभिन्न पाठ्यक्रमों, सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, स्नातक एवं स्नातकोत्तर आदि में प्रवेश को आवेदन की अंतिम तिथि 15 जुलाई से बढ़ाकर 31 जुलाई कर दी गई है। साथ ही रि-रजिस्टे्रशन करने की अंतिम तिथि भी 31 जुलाई की गई है, पहले 15 जुलाई अंतिम तिथि थी। इग्नू अध्ययन केंद्र कुल्लू की को-आर्डिनेटर प्रो. सीमा शर्मा ने बताया कि एससी व एसटी छात्रों की फीस डिग्री पूरी होने के बाद माफ  की जाएगी। यानी उन्होंने डिग्री को पूरा करने के लिए जो फीस भरी थी, वह उन्हें वापस दी जाएगी। यदि फिर वे फार्म की हार्ड कापी लेकर उसे इग्नू के क्षेत्रीय कार्यालय में भी जमा करते हैं तो फिर भी उन्हें फीस भरने से राहत मिलेगी। साथ ही इग्नू ने अपने पाठ्यक्रमों को पीडीएफ और सीडी के रूप में भी तैयार किया है। खास बात यह है कि जो छात्र डिजिटल माध्यम से पढ़ाई करेंगे या फिर फार्म भरते हुए विकल्प में डिजिटल सामग्री को तवज्जो देते हंै, तो उन्हंे 15 फीसदी की छूट दी जाएगी। छात्रों की अमूमन शिकायत रहती है कि उन्हें प्रिंटेड सामग्री देरी से मिलती है, जिससे उन्हें पढ़ाई करने में दिक्कतें आती हैं। इसी का तोड़ इग्नू ने डिजिटल किताबों के रूप में खोजा है। प्रो. सीमा शर्मा ने बताया कि इग्नू अध्ययन केंद्र में प्रबुद्ध परामर्शदाता अपनी सेवाएं देने को तत्पर हैं। इन्नू शिक्षार्थी उसका लाभ उठा सकते हैं। इग्नू को-आर्डिनेटर ने बताया कि इग्नू तीन भागों में विभक्त है। पहला स्टडी सेंटर, दूसरा क्षेत्रीय केंद्र और तीसरा मुख्य कार्यालय दिल्ली है। साथ ही उन्होंने बताया कि आधिकारिक इग्नू वेबसाइट के माध्यम से आवेदन पत्र ऑनलाइन जमा किया जा सकता है। साथ ही उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे फार्म भरने से पहले प्रोस्पेक्टस को ध्यान से पढ़ें और उसी के अनुसार अपना फार्म भरें।

You might also like