तिमाही नतीजे बताएंगे बाजार की चाल

मुंबई -भारतीय शेयर बाजार में गिरावट का रूख बना हुआ है। लगातार तीसरे हफ्ते शेयर बाजार गिरावट लेकर बंद हुए हैं। अगले सप्ताह कंपनियों के तिमाही परिणामों और वैश्विक स्तर पर होने वाले घटनाक्रमों से बाजार की चाल तय होगी, लेकिन भारी उथल-पुथल की फिलहाल संभावना  नहीं दिख रही है। बाजार के सीमित दायरे में रहने का अनुमान जताया गया है। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 1.03 प्रतिशत अर्थात 399.22 अंक गिरकर 38337.01 अंक पर रहा। इस दौरान नेशनल स्टॉक एक्सचेंज  का निफ्टी 1.15 प्रतिशत अर्थात 133.25 अंक उतरकर 11419.25 पर रहा। बाजार अध्ययन करने वाली कंपनी कैपिटलऐम के शोध प्रमुख रोमेश तिवाड़ी ने बीते सप्ताह बाजार में हुए उठापटक का हवाला देते हुए कहा कि अगले सप्ताह भी बाजार से कोई विशेष उम्मीद नहीं की जानी चाहिए। बजट में सरकारी कंपनियों में सरकार की हिस्सेदारी को लेकर की घोषणाओं के साथ ही अमीर करदाताओं पर लगाए गए अधिभार तथा विदेशी निवेशकों के इसके दायरे में आने की आशंका से बने दबाव का असर अगले सप्ताह भी दिख सकता है। अगले सप्ताह भी बाजार के गिरावट में रहने की आशंका है। बाजार की चाल पर कंपनियों के पहली तिमाही परिणाम का असर दिख सकता है।

You might also like