दिल्ली में दबोचे दो जालसाज

नंगल जरियालां के रिटायर टीचर से ठगे थे 26.80 लाख

गगरेट  —विकास खंड गगरेट के नंगल जरियालां के सेवानिवृत्त शिक्षक से बीमा पॉलिसी के नाम पर 26 लाख 80 हजार रुपए की जालसाजी करने वाले शातिरों में से दो शातिरों को गगरेट पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इस मामले में पुलिस को तीन और आरोपी वांछित हैं। इनमें से एक आरोपी एक मामले में पहले से ही जेल में बंद है, जिसे यहां लाने के लिए पुलिस ने औपचारिकताएं पूरी करना शुरू कर दिया है।  मामले के अनुसार नंगल जरियालां गांव के सेवानिवृत्त शिक्षक रमेश चंद ने विभिन्न एजेंट के माध्यम से निजी बीमा कंपनियों की पांच बीमा पॉलिसी खरीदी थी। हालांकि इनकी कुछ किस्तें जमा करवाने के बाद उन्होंने इनकी किस्त जमा करवाना बंद कर दिया। दिल्ली में बैठे शातिरों में निजी बीमा कंपनियों की साइट हैक कर रमेश चंद की पॉलिसी हासिल कर ली और उन पर अंकित फोन नंबर पर  रमेश चंद से संपर्क करना शुरू कर दिया। शातिरों ने रमेश चंद को उनकी पॉलिसी ईमेल कर इन्हें बंद करवाने की रिक्वेस्ट करने के साथ इनमें और किस्तें जमा करवाने को कहा। रमेश चंद उनकी बातों में आ गए और जब तक उन्हें शक हुआ तब तक वह शातिरों द्वारा यूनियन केयर और फ्यूचर इंडिया के अकाउंट में 26 लाख अस्सी हजार रुपए जमा भी करवा चुके थे।  मामला सामने आते ही गगरेट पुलिस ने शातिरों की धरपकड़ के लिए एक टीम का गठन कर दिल्ली रवाना किया और काफी मशक्कत के बाद पुलिस टीम दो शातिरों तक पहुंच गई और उन्हें गिरफ्तार कर यहां ले आई।   एएसपी विनोद कुमार ने बताया कि पुलिस ने जालसाजी के इस मामले में दो आरोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। इनकी शिनाख्त अमर सिंह पुत्र बाल रूप निवासी नई सीमापुरी दिल्ली व दीपक पुत्र मुकेश कुमार निवासी पहाड़गंज दिल्ली के रूप में हुई है। 

You might also like