धोनी टीम में रहेंगे, खेलेंगे नहीं

संन्यास की अटकलों पर रिपोर्ट, युवाओं को संवारने की मिलेगी जिम्मेदारी

मुंबई – वर्ल्डकप समाप्त हो जाने के तुरंत बाद ही अब टीम इंडिया को वेस्टइंडीज जाना है। ऐसा माना जा रहा था कि पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी वर्ल्डकप के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे, ऐसा तो हुआ नहीं, लेकिन उन्होंने विंडीज दौरे के लिए खुद को अनुपलब्ध बताया है। वह अब टीम इंडिया के बदलाव के दौर में मदद करेंगे। एक अखबार की रिपोर्ट के अनुसार धोनी अब भारत या विदेशी दौरे पर पहली पसंद के विकेटकीपर के रूप में टीम के साथ नहीं जाएंगे, जब तक ऋषभ पंत टीम में जम नहीं जाते, तब तक उनको तैयार करने की प्रक्रिया चलती रहेगी। इस दौरान धोनी उनकी मदद करेंगे। धोनी 15 सदस्यीय टीम का हिस्सा हो सकते हैं, लेकिन वह प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं होंगे। इस घटनाक्रम से जुड़े सूत्रों के अनुसार धोनी को यह बताने की आवश्यकता नहीं है कि उन्हें संन्यास ले लेना चाहिए। वह पहले भी यह साबित कर चुके हैं कि वह जानते हैं उन्हें कब जाना है। वह संन्यास लेंगे, लेकिन उसकी जल्दी क्या है। राष्ट्रीय चयन समिति शुक्रवार को वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का चयन करेगी। यदि सिलेक्टर्स को लगता है कि दिनेश कार्तिक फिट हैं, तो वह टीम का हिस्सा बने रहेंगे। कार्तिक वर्ल्डकप में दूसरे विकेटकीपर के रूप में टीम में शामिल थे और कुछ मैच उन्होंने बल्लेबाज की हैसियत से खेले थे। वह लंबे समय तक धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में नहीं खेल पाएंगे। पंत इस साल अक्तूबर में 22 साल के होंगे। वह धोनी के सही उत्तराधिकारी होंगे और उन्होंने इस बात को साबित भी किया है।

आईपीएल के लिए एक और साल

सूत्रों के अनुसार धोनी अभी संन्यास नहीं लेना चाहते हैं, क्योंकि वह आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से एक साल और खेलने वाले हैं। फ्रेंचाइजी ने 2018 में तीन साल के लिए खिलाडि़यों को अनुबंधित किया था। धोनी इस तरह अचानक सीएसके से अलग नहीं हो सकते हैं। वह इस टीम की जान हैं।

You might also like