नगरोटा में बेटे ने मार डाला पिता

नशे में धुत्त युवक ने दस हजार रुपए के चक्कर में पीट-पीट कर किया अधमरा, अस्पताल में थमीं सांसें

नगरोटा बगवां – मां-बाप अपनी औलाद को पालने के लिए दिन-रात जीतोड़ मेहनत करते हैं , ताकि बच्चों को किसी प्रकार की परेशानी न हो, लेकिन जब वहीं बेटा बड़ा होकर पिता को ही मौत की नींद सुला दे तो इससे भयावह त्रासदी उस परिवार  के लिए क्या होगी। ऐसी ही दिल दहला देने वाली खूनी वारदात नगरोटा बगवां नगर परिषद के वार्ड-3 में पेश आई है। यहां मंगलवार रात एक कलियुगी पुत्र ने अपने ही बाप को पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया । पुलिस ने धारा 302 का मुकद्दमा दर्ज कर आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया । प्राप्त जानकारी के मुताबिक घटना मंगलवार रात उस समय की है, जब अपने ही घर में बाप-बेटा नशे के दौर से गुजर रहे थे । इस दौरान मकान का कुछ हिस्सा गिरने की वजह से सरकार की ओर से मिली 10 हजार की सहायता राशि पर दोनों में कहासुनी शुरू हो गई । नशे के चलते बात बिगड़ते देर नहीं लगी और मामला धक्कामुक्की से भी आगे निकल कर लात घूंसों तक जा पहुंचा । इस दौरान 55 वर्षीय बाप रवि कुमार बेटे की मार सहन नही कर सका और अचेत हो कर गिर गया । स्थानीय पार्षद ने हादसे की जानकारी मिलने के बाद पुलिस को सूचना दी तथा  रवि को बेहोशी की हालत में नगरोटा अस्पताल लाया गया । चूंकि उसकी हालत गंभीर थी, जिसके चलते उसे टांडा मेडिकल कालेज रैफर करने की तैयारी चल ही रही थी कि डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। थाना प्रभारी भारत भूषण तथा सहायक उपनिरीक्षक लीलाधर  आरोपी बेटे से पूछताछ कर रहे हैं । इस दौरान मृतक रवि की बूढ़ी मां और पत्नी भी घर पर मौजूद थी, जबकि आरोपी अमन सहित उसके दो पुत्र है । पुलिस ने 302 का मामला दर्ज कर लिया है। अमन कुमार को बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे कोर्ट ने आरोपी को तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।  डीएसपी कांगड़ा विनोद कुमार ने भी मामले की पुष्टि की है ।

You might also like