नालागढ़-रामशहर मार्ग पर गिरा ल्हासा, आवाजाही ठप

नालागढ़—नालागढ़ उपमंडल में बुधवार को हुई बारिश से क्षेत्र का जनजीवन एक बार फिर अस्त व्यस्त होकर रह गया। जहां कई सड़कों पर ल्हासे व चट्टाने गिर गई है, वहीं कई मार्ग अवरूद्ध भी रहे। नालागढ़-रामशहर मार्ग पर सिल्णू पुल के समीप ल्हासा गिरने से मार्ग अवरूद्ध हो गया और यातयात व्यवस्था प्रभावित रही। हालांकि विभाग द्वारा इस मार्ग को खोलने के लिए मशीनरी भेजी गई और यातायात को सुचारू बनाया गया। विभाग के मुताबिक मार्ग को खोल दिया गया है, लेकिन पत्थर गिरने के कारण एहतियातन कर्मी तैनात किये है और लोगों को सावधानी बरतने को कहा गया है। फिलवक्त क्षेत्र में हुई भारी बारिश के कारण नदी नाले उफान पर आ गए और यहां तक कि नालागढ़ शहर के नालों में भी पानी भर गया है। बुधवार दोपहर बाद लगी बारिश की झड़ी करीब दो घंटे तक जारी रही। इस बारिश से नालागढ़-रामशहर मार्ग पर ल्हासा गिरने से मार्ग अवरूद्ध हो गया। नालागढ़ से करीब पंाच किलोमीटर दूर सील्णू पुल के समीप ल्हासा आ गया, जिसमें छोटे बडे पत्थर व चट्टाने भी शामिल रही। करीब आधा घंटा तक सड़क के दोनों ओर वाहनों का जमवाड़ा लग गया और लोनिवि ने मशीनरी भेजकर इस मार्ग को यातायात के लिए खोल दिया। हालांकि पत्थर गिरने का सिलसिला जारी रहने के कारण विभाग द्वारा सतर्कता बरतने को कहा गया और कर्मियों को तैनात किया गया है किसी अनहोनी से बचा जा सके। लोनिवि नालागढ़ डिवीजन के एसडीओ राजकुमार शर्मा ने कहा कि बुधवार को हुई बारिश से नालागढ़-रामशहर मार्ग पर बड़ी चट्टान गिर गई थी, जिसे विभाग ने मशीनरी लगवाकर हटा दिया और यातायात को सुचारू बनाया गया। उन्होंने कहा कि पहाड़ से पत्थर गिरने के चलते एहतियातन कर्मियों को तैनात किया गया है और लोगों को भी सतर्क रहने को कहा गया है, वाहन ध्यान से निकाले ताकि किसी भी अनहोनी से बचा जा सके।

You might also like