नाहन कालेज में छात्रों ने बनाई पेंटिंग

नाहन—डा. वाईएस परमार राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय नाहन के बी-वॉक विभाग में विश्व कौशल दिवस मनाया गया। महाविद्यालय के बी-वॉक विभाग के छात्र-छात्राओं ने विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का आयोजन किया गया, जिसमें प्रमुख रूप से प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता, नुक्कड़-नाटक, नारा लेखन, पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। इसमें करीब 170 विद्यार्थियों ने भाग लिया। प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों में कौशल का विकास जागरूक करना है। समारोह की मुख्यातिथि महाविद्यालय की प्राचार्या डा. वीणा राठौर रही, जिन्होंने विद्यार्थियों को वर्तमान युग में कौशल के महत्त्व पर प्रकाश डाला। अपने संबोधन में डा. राठौर ने बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की तथा कार्यक्रम के लिए हार्दिक शुभकामना दी। कार्यक्रम के अंत में बी-वॉक के नोडल अधिकारी डा. जगदीश चंद ने महाविद्यालय की प्राचार्या का धन्यवाद किया। इसके अतिरिक्त समारोह में बी-वॉक के स्टाफ अंकुर, मोहित तोमर, वीरेंद्र, नेहा परमार, रविदत्त, मदन सिंह व अपूर्वा बंसल शामिल हैं। इससे पूर्व सुबह साढ़े छह बजे बी-वॉक के नोडल अधिकारी डा. जगदीश चंद तथा ग्रेजुएट ऐड ऑन कोर्स प्रोग्राम के समन्वयक प्रो. रविकांत ने मैराथन का आयोजन किया, जिसको महाविद्यालय की प्राचार्या ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मैराथन में एनएसएस, एनसीसी, रेंजर एंड रोवर्स तथा महाविद्यालय की छात्रावास की छात्राओं ने भाग लिया। मैराथन गुन्नूघाट से होकर मालरोड, दिल्ली गेट, पुलिस चौकी, महिमा लाइब्रेरी से होकर नाहन चौगान पहुंची। मैराथन में कालेज के स्टॉफ ने भी भाग लिया, जिसमें डा. प्रेम भारद्वाज, प्रो. जगमोहन सिंह, डा. उत्तपम्मा पांडे, डा. उर्वशी, डा. विनिता, प्रो. सुदेश, डा. राजेंद्र तोमर, प्रो. पूजा, डा. वीणा तोमर, डा. सरिता, प्रो. नवदीप शाह, प्रो. बारू राम आदि शामिल थे।

You might also like