पंजाब में बारिश का कहर बठिंडा में नावें तैनात

लगातार हो रही बारिश से शहर के निचले इलाके डूबे

बठिंडा – पंजाब के बड़े शहरों से एक बठिंडा शहर के निचले इलाके पिछले 48 घंटों के दौरान करीब 350 मिलीमीटर बारिश होने से डूबे हुए हैं तथा इन इलाकों में नावें तैनात की गई हैं। मौसम केंद्र के अनुसार अगले चौबीस घंटों में पश्चिमोत्तर में कहीं-कहीं भारी बारिश होने की संभावना है तथा शेष भाग में अनेक स्थानों पर हल्की से औसत बारिश होने के आसार हैं। पिछले चौबीस घंटों में क्षेत्र में कहीं-कहीं भारी बारिश तथा शेष भाग में हल्की बारिश हुई। हिमाचल प्रदेश में बारिश के कारण नदियों का जल स्तर बढ़ने के कारण पंजाब तथा हरियाणा के कुछ नदी नाले उफान पर होने के कारण घग्गर नदी खतरे के निशान से उपर बह रही है, जिससे पटियाला जिला के कई गांवों में पानी भर गया। सनौर , राजपुरा तथा घनौर में नदी का पानी भर गया, जिससे फसल डूब गई है। पानी में डूबे इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है। सामरिक दृष्टि से अहम बठिंडा के स्कूल बंद कर दिए गए हैं। सचिवालय से लेकर पुलिस महानिरीक्षक,जजों ,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ,तहसीलदार की कोठियों के आगे नावें चल रही हैं। प्रशासन का सारा कामकाज ठप पड़ा है। लोग बदतर हालात के लिए केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल, पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बादल सहित राज्य सरकार को कोस रहे हैं। पानी में डूबे सिविल लाइन, सिरकी बाजार, पासर राम नगर, पावर हाउस इलाके के प्रभावित लोगों का कहना है कि पिछले पंद्रह सालों से अकाली सांसद एवं केंद्रीय मंत्री हरसिमरत बादल के आश्वासन ने उनकी ये हालत की है।

You might also like