बिकवाली से बाजार में हर ओर हाहाकार

मुंबई – कमजोर निवेश धारणा के बीच घरेलू शेयर बाजारों में लगातार दूसरे दिन चौतरफा लिवाली देखी गई और बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार को 560.45 अंक यानी 1.44 प्रतिशत लुढ़ककर 38,337.01 अंक पर आ गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 177.65 अंक यानी 1.53 प्रतिशत की गिरावट में 11,419.25 अंक पर रहा। यह दोनों प्रमुख सूचकांकों का 17 मई के बाद का निचला स्तर है। इससे पहले गुरुवार को भी सेंसेक्स 318 अंक और निफ्टी 91 अंक लुढ़का था। वाहन समूह में सबसे ज्यादा सवा तीन प्रतिशत की गिरावट देखी गई। वित्त, बैंकिंग और सीडीजीएंडएस समूहों में भी दो प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट रही। सेंसेक्स में महिंद्रा एंड महिंद्रा ने सर्वाधिक सवा चार प्रतिशत से अधिक का नुकसान उठाया। विदेशों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच सेंसेक्स 161.27 अंक की बड़ी बढ़त के साथ 39,058.73 अंक पर खुला और यही इसका दिवस का उच्चतम स्तर रहा। घरेलू स्तर पर निवेशकों की कमजोर धारणा के कारण कुछ ही मिनट में लाल निशान में उतर गया। समय के साथ बाजार की गिरावट बढ़ती गई। कारोबार की समाप्ति से पहले 38,271.35 अंक के दिवस के निचले स्तर को छूने के बाद यह गत दिवस के मुकाबले 560.45 अंक लुढ़ककर 38337.01 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 26 कंपनियों में गिरावट रही। निफ्टी 31.05 अंक की तेजी में 11,627.95 अंक पर खुला और कुछ ही देर में 11,640.35 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। इसके बाद यहां भी बिकवाली हावी हो गई। कारोबार के दौरान 11,399.30 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतरने के बाद अंततः यह गत दिवस की तुलना में 177.65 अंक नीचे 11,419.25 अंक पर रहा। निफ्टी की 50 में से 43 कंपनियों में बिकवाली हावी रही। मझौली और छोटी कंपनियों में गिरावट ज्यादा रही।

You might also like