बिलासपुर में अब नशे के कारोबारियों की खैर नहीं

बिलासपुर—2014 बैच की आईपीएस साक्षी वर्मा कार्तिकेन ने बिलासपुर एसपी का कार्यभार संभाला है। बतौर एसपी यह उनकी दूसरी पोस्टिंग है। इससे पहले वह किन्नौर जिला में बतौर पुलिस अधीक्षक सेवाएं दे रही थी। यह आईपीएस अधिकारी अपने दबंग अंदाज के लिए मशहूर है। बता दें कि किन्नौर जिला में साक्षी वर्मा नशे के कारोबारियों में खौफ  का नाम बन चुका था। किन्नौर से पहले साक्षी वर्मा शिमला में बतौर एएसपी पोस्टेड थीं। यहां उन्होंने नशे की तस्करी का कारोबार करने वाले माफियों की नाक में दम कर दिया था। फरवरी, 2017 में उन्होंने शिमला के उपनगर संजौली में दबिश देकर ब्राउन शुगर सप्लायर को रंगे हाथों गाड़ी समेत धर दबोचा था। बहरहाल इनके बिलासपुर ज्वाइन करने के उपरांत अब जिला में नशे की लगातार बढ़ रही घटनाओं पर भी अंकुश लगने की उम्मीद जताई जा रही है। एसपी साक्षी वर्मा ने बताया कि वूमन सेफ्टी उनकी प्राथमिकता रहेगी। जिलाभर में ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारने पर भी कार्य किया जाएगा। इसके अलावा टू व्हीलर्स के लिए हेल्मेट का प्रयोग करवाना प्राथमिकता रहेगी। साक्षी वर्मा ने बताया कि उनका फोकस जिला में महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करना होगा। जिला में ड्रिंक एंड ड्राइव को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे, ताकि दुर्घटनाओं को कम किया जा सके। साक्षी ने कहा कि उनकी प्राथमिकता जिला में पुलिस का आधुनिकीकरण करना है। जिला में किसी प्रकार की नशे कारोबारी को बख्शा नहीं जाएगा। सीमावर्ती इलाकों पर पुलिस का नशे के प्रति विशेष फोकस रहेगा। उन्होंने लोगों से अपील की है कि जिला में नशे की बिक्री व अन्य किसी भी तरह की जानकारी पुलिस को बेझिझक दे सकते हैं। बता दें कि साक्षी वर्मा ने पुलिस व आम जनता के सहयोग से पहल करते हुए कई तरह के कार्यक्रम चलवाए, जिन्हें काफी सफलता मिली। अपराध व आपराधिक गतिविधियों की रोकथाम करने के बारे में काफी उल्लेखनीय अनुभव रहा है। जोखिम व चुनौतीपूर्ण कार्यों में उन्होंने हमेशा सफलता पाई है। अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाने में उन्होंने सराहनीय कार्य किया। उन्होंने क्राइम को नियंत्रण करने के साथ-साथ आमजन को यातायात के नियमों के संबंध में जागरूक करने के लिए कई तरह के कई कार्यक्रम शुरु करवाए। महिला विरुद्ध अपराधों की रोकथाम सहित जिला में शांति एवं कानून-व्यवस्था बनाए रखने, लोगों की पुलिस से संबंधित समस्याओं का अविलंब निपटारा व समाधान करके आमजन को साथ लेकर चलना उनकी प्राथमिकता रही है।

You might also like