बुद्धिल डैम ने आठवें दिन उगली लाश

भरमौर—उपमंडल के सेरी गांव से लापता ग्रामीण का शव बुद्धिल डैम से आठवें दिन बरामद कर लिया है। सर्च आपरेशन में सफलता न मिलने पर बांध को खाली किया गया। लिहाजा इस दौरान शव बांध से बरामद हुआ है। बहरहाल पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। मृतक के शव का सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया है। उपमंडलीय प्रशासन की ओर से मृतक के परिजनों को दस हजार रुपए की फौरी राहत प्रदान कर दी गई है। उल्लेखनीय है कि भरमौर के सेरी गांव का दया राम 11 जुलाई को भेड़-बकरियां चराने गया था। और तब से लापता चल रहा था। अपने स्तर पर लापता की तलाश करने पर भी कोई सुराग न मिलने पर परिजनों ने पुलिस थाना भरमौर में शिकायत दर्ज करवाई थी। लापता दया राम की चप्पल बांध किनारे से मिली थी। लिहाजा परिजनों ने आशंका जताई थी कि दया राम अनियंत्रित होकर बांध में गिर गया है। परिजनों ने प्रशासन से बांध में लापता की तलाश करने की गुहार लगाई थी।  बीते मंगलवार और बुधवार को विभिन्न एजेंसियों की मदद से बांध में सर्च आपरेशन चलाया गया और गोताखोरों की मदद भी ली गई थी, लेकिन कोई सफलता हाथ नहीं लगी। नतीजतन गुरुवार को बांध को खाली किया गया। तो शव बांध के भीतर ही बरामद कर लिया गया। उधर, एडीएम भरमौर पीपी सिंह का कहना है कि पीडि़त परिवार को मौके पर तहसीलदार भरमौर केशव राम ने दस हजार रुपए की फौरी राहत प्रदान कर दी है। मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर वारिसों के हवाले कर दिया गया है।

You might also like