मणिमहेश यात्रा… स्टील की थालियों में परोसो लंगर

डीसी विवेक भाटिया ने एडीएम भरमौर को दिए आयोजन समितियों से शपथ पत्र लेने के आदेश, 24 अगस्त से होगा यात्रा का आगाज

भरमौर –जनजातीय क्षेत्र भरमौर उपमंडल में 24 अगस्त से छह सितंबर तक चलने वाली श्रीमणिमहेश यात्रा के पुख्ता प्रबंधों को लेकर उपायुक्त चंबा विवेक भाटिया की अध्यक्षता में मिनी सचिवालय सभागार भवन में बैठक आयोजित की गई इस बैठक में श्रीमणिमहेश ट्रस्ट के सरकारी व गैर सरकारी सदस्यों ने भाग लिया, जिसमें यात्रा से संबंधित तमाम पहलुओं पर विस्तारपूर्वक चर्चा की गई यह यात्रा 13 सेक्टरों के माध्यम से आयोजित की जाएगी। ये 13 सेक्टर श्रीमणिमहेश यात्रा के मानचित्र पर पर अंकित रहेंगे ताकि यात्रियों को किसी प्रकार की असुविधा न हो। इस यात्रा में एक सौ के करीब अधिकारी व कर्मचारी अपनी सेवाएं देंगे। यात्रा के दौरान 80 के करीब विभिन्न स्थलों पर लंगर  की व्यवस्था रहेगी। बैठक में उपायुक्त चंबा विवेक भटिया ने एडीएम भरमौर को निर्देश दिए कि लंगर आयोजकों से शपथ पत्र लिया जाए कि इस मर्तबा स्टील के बर्तन ही लंगर में उपयोग किया जाए ताकि इस धार्मिक स्थल में प्रदूषण को कम किया जा सके। उपयुक्त चंबा ने कहा कि भरमाणी माता जल स्रोत के आसपास नो लंगर जोन रहेगा व चाय-ढाबे खान-पीने की व्यवस्था पर भी रोक रहेगी, ताकि मंदिर की पवित्रता कायम रह सके। उपायुक्त चंबा ने लोक निर्माण विभाग को भरमाणी माता परिसर में माडल शौचालय बनाने के लिए निर्देश दिए। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि ट्रस्ट के सभी मंदिरों के गर्भ गृह में दान पात्र स्थापित किए जाएंगे ताकि ट्रस की आमदनी को बढ़ाया जा सके। राधा अष्टमी के दिन डल झील पर चढ़ावे की धनराशि के आबंटन के मुद्दे पर उपायुक्त ने कहा कि राजस्व रिकार्ड के अनुसार धनराशि का आबंटन निर्धारित किया जाएगा। श्रीमणिमहेश ट्रस्ट के गैर सरकारी सदस्यों ने सुझाव देते हुए कहा कि इस मामले पर सभी पुजारियों से सुझाव लेने के उपरांत ही मामले पर निर्णय लिया जा सकता है जिस पर उपायुक्त ने कहा कि इस बारे अलग से बैठक आयोजित की जाएगी। गैर सरकारी सदस्यों ने यात्रा की अवधि को बढ़ाने की भी मांग बैठक में रखी।  बैठक में उपायुक्त चंबा ने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए भी सामूहिक तौर पर आगे आए । उन्होंने कहा कि भरमौर क्षेत्र में पर्यटन की अपार संभावनाएं मौजूद हैं इस क्षेत्र में आसपास के ट्रैकिंग रूट चिहित किए जाएंगे और स्थानीय  युवकों को इस व्यवसाय से जुड़ी हुई तमाम बारीकियों से प्रशिक्षित किया जाएगा बैठक में उन्होंने भरमौर के विकास कार्यों का भी मौजूद अधिकारियों से चर्चा की। इस मौके पर मणिमहेश न्यास के अध्यक्ष एवं एडीएम भरमौर पीपी सिंह, एसडीएम एवं ट्रस्ट के सदस्य सचिव मनीष कुमार सोनी समेत न्यास के सरकारी और गैर सरकारी सदस्य मौजूद रहे।

You might also like