मनाली-लेह मार्ग पर फंसे सैकड़ों सैलानी

केलांग—मनाली-लेह मार्ग पर भू-स्खलन होने से सैंकड़ों सैलानी बीच रास्ते में फंस गए हैं। पटसेऊ-जिंगजिंगबार के बीच भू-स्खलन होने से जहां यातायात प्रभावित हुआ है, वहीं गाडि़यों की आवाजाही भी ठप हो गई है। ऐसे में जहां लाहुल-स्पीति प्रशासन ने मनाली-लेह मार्ग पर फंसे सैलानियों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाने के लिए कसरत तेज कर दी है, वहीं बीआरओ के जवान मार्ग बहाली मंे जुट गए हैं। जानकारी अनुसार बुधवार देर रात पटसेऊ व जिंगजिंगबार में पहाड़ी का मलबा सड़क पर गिर जाने से गाडि़यों की आवाजाही ठप हो गई। मार्ग के बंद होने से सैंकड़ों पर्यटक सरचू व दारचा में फंस गए हैं। लाहुल-स्पीति प्रशासन को जैसे ही उक्त घटना की सूचना प्रशासन ने जहां बीच रास्ते में फंसे सैलानियों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाना शुरू कर दिया, वहीं बीआरओ के जवान सड़क बहाली के कार्य मंे जुट गए। यहां बता दें कि मनाली-लेह मार्ग बंद हो जाने के कारण मनाली से लेह गए पर्यटक दारचा में फंस गए हैं, जबकि लेह से मनाली आ रहे पर्यटक सरचू में फंसे हुए हंै। हालांकि प्रशासन का कहना है कि सैलानियों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचा दिया गया है। सड़क के बहाल होते ही गाडि़यांे की आवाजाही शुरू करवा दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि मनाली में समर सीजन भले ही समाप्त हो गया हो, लेकिन एडवेंचर के शौकीन पर्यटकों ने अब अपना रूख लेह व लाहुल-स्पीति की तरफ किया है। सैलानी दो पहिया वाहनों में सफर को प्राथमिकता दे रहे हैं। ऐसे में मनाली-लेह मार्ग के ठप हो जाने से जहां सैंकड़ों सैलानी उक्त मार्ग में फंस गए हैं, वहीं खराब मौसम बीआरओ की टंेशन बढ़ा रहा है। लाहुल-स्पीति में शुरू हुए पर्यटक सीजन के दौरान जहां मनाली-लेह मार्ग पर थमी वाहनों की रफ्तार कारोबारियों को टंेशन में डाल रही है, वहीं यहां के पर्यटन करोबार पर भी इसका असर पड़ रहा है। हालांकि बीआरओ सड़क बहाली में जुटा हुआ है। पर्यटक वाहन चालक नरेंद्र ने बताया कि बुधवार देर रात को पटसेऊ व जिंगजिंगबार के बीच भू-स्खलन हुआ है, जिससे मार्ग अवरुद्ध हो गया है। उन्होंने बताया कि वह पर्यटकों को मनाली से लेह की तरफ ले जा रहे थे कि भू-स्खलन होने से वह भी बीच रास्ते मंे ही फंस गए हैं। उधर, बीआरओ कमांडर कर्नल उमा शंकर ने बताया कि भू-स्खलन होने से मनाली-लेह मार्ग यातायात के लिए अवरुद्ध हो गया है। उन्होंने बताया कि बीआरओ के 70 आरसीसी के जवान मार्ग बहाली में जुटे हुए हंै।

You might also like