रामुपर कालेज में एमए एजुकेशन

रामपुर बुशहर—अब सर्वपल्ली राधा कृष्णन बीएड एमएड कालेज नोगली में एमए एजुकेशन विषय भी पढ़ाया जाएगा। प्रदेश विश्वविद्यालय ने हिमाचल में केवल दो कॉलेजो को इस विषय की मंजूरी दी है। रामपुर के लिए ये एक बड़ी उपलब्धि है। एमए एजुकेशन विषय शुरू होने से अब रामपुर के युवाओं को घरद्वार पर ही बेहतर शिक्षा मिल पाएगी। सर्वपल्ली राधा कृष्णन बीएड एमएड कॉलेज प्रबंधन वर्ष 2006 से दुर्गम क्षेत्रों से तालुक रखने वाले छात्रों के भविष्य को संवारने में जुटा हुआ है। इसी कड़ी में कालेज के नाम एक और उपलब्धि हासिल हुई है। सर्वपल्ली राधा कृष्णन बीएड एमएड कालेज नोगली के अध्यक्ष डॉ. मुकेश शर्मा ने इस उपलब्धि पर खुशी जाहीर की है। उन्होंने बताया कि यह कोर्स दूरवर्ती क्षेत्र के विद्यार्थियों के लिये काफी लाभप्रद होगा। दुर्गम क्षेत्र के विद्यार्थियों और अविभावकों को अब शिमला या बाहरी राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा।  इस सत्र से ही संस्थान में इस विषय की पढ़ाई शुरू हो जाएगी। शर्मा ने कहा कि संस्थान हमेशा से ही दुर्गम क्षेत्र के विकास के लिए वर्ष 2006 से प्रयासरत है। प्रत्येक वर्ष विद्यार्थिओं के लिए विभिन्न आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। उन्होंने सभी शिक्षकों एवं गैर शिक्षक वर्ग को बधाई देते हुए कहा की संस्थान आने वाले समय में भी शिक्षा के क्षेत्र में अनेकों कीर्तिमान स्थापित करता रहेगा और गुणात्मक शिक्षा के लिए संस्थान समय समय पर समन्वय, विचार दृविमर्श एवं जिज्ञासा सत्र का आयोजन करता रहता है। उन्होंने कहा कि संस्थान में  सत्र 2019-21 की प्रवेश प्रक्त्रिया में वरीयता के आधार पर बीपीएल परिवार के पांच छात्रों को फीस में विशेष छूट दी जाएगी। संस्थान के प्रधानाचार्य डॉ0 नवीन कुमार मोक्टा ने बताया की प्रत्येक वर्ष 200 बीएड और 50 एमएड तथा 100 इक्डोल के माध्यम से बीएड प्रशिक्षु शिक्षा ग्रहण करते है। अब इस कड़ी में एमए एजुकेशन विषय जुड़ा है, जोकि संस्थान के लिए गर्व का विषय है।

You might also like