शेयर बाजार में लौटी तेजी

मुंबई – वैश्विक स्तर से मिले सकारात्मक संकेतों के साथ अमरीकी फेडरल रिजर्व बैंक के ब्याज दरों में कमी करने की संभवना कम होने की उम्मीद में हुई लिवाली के बल पर घरेलू शेयर बाजार गिरावट से उबरने में सफल रहा। इस दौरान सेंसेक्स 266 अंक और निफ्टी 84 अंक चढ़ा। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 266.07 अंक चढ़कर 38823.11 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 84 अंक बढ़कर 11582.90 अंक पर रहा। इस दौरान छोटी और मझौली कंपनियों में भी लिवाली का जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.56 प्रतिशत बढ़कर 14494.66 अक पर और स्मॉलकैप 0.41 अंक बढ़कर 13754.89 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 2596 कंपनियों में कारोबार हुआ, जिसमें से 1243 बढ़त में और 1195 गिरावट में रहे जबकि 158 में कोई बदलाव नहीं हुआ। बीएसई पूंजीगत वस्तुओं और टिकाऊ उपभोक्ता वस्तु समूह को छोड़कर सभी समूह बढ़त में रहे। इसमें ऑटो में सबसे अधिक 1.84 प्रतिशत, धातु में 1.81 प्रतिशत, टेलीकॉम में 1.46 प्रतिशत और रियलटी में 1.36 प्रतिशत की बढोतरी दर्ज की गई। वैश्विक स्तर पर लगभग सभी प्रमुख शेयर बाजार में तेजी रही। बीएसई का सेंसेक्स 194 अंकों की छलांग लगाकर 38751.62 अंक पर खुला। इसी दौरान यह 38631.31 अंक के निचले स्तर तक गया, लेकिन वैश्विक स्तर से मिले सकारात्मक समर्थन के बल पर यह 38892.50 अंक के उच्चतम स्तर तक गया। अंत में यह 266.07 अंक की बढ़त लेकर 38823.11 अंक पर रहा।

You might also like