संदीप शर्मा सर्वश्रेष्ठ थाना प्रभारी

जोगिंद्रनगर—मंडी जिला में संचालित एक दर्जन से अधिक पुलिस थानों में जोगिंद्रनगर पुलिस थाने में कार्यरत थाना प्रभारी संदीप शर्मा को जिला का सर्वश्रेष्ठ थाना प्रभारी के पुरस्कार से नवाजा गया है। पुलिस अधीक्षक मंडी ने उन्हें यह पुरस्कार उनकी बेहतर कार्यशैली और अपने कार्य के प्रति ईमानदारी और निष्ठा बनाए रखने पर दिया गया है। महज एक वर्ष के अंतराल में अवैध नशे के सेवन और तस्करी के सैकड़ों मामले दर्ज करने वाले जिला के पहले ऐसे थाना प्रभारी बने हैं। सितंबर, 2018 में पुलिस थाना जोगिंद्रनगर में तैनात होकर अब तक 35 मामले एनडीपीएस एक्ट के तहत दर्ज कर 50 से अधिक आरोपियों को सलाखों के पीछे धकेला है। करीब एक माह पहले 6 किलो 324 ग्राम चरस और 413 ग्राम अफीम बरामद कर मंडी जिला में रिकॉर्ड दर्ज किया है। एक वर्ष के अंतराल में 15 किलो से अधिक चरस और 120 ग्राम हेरोइन बरामद करने में भी उन्होंने कामयाबी हासिल की है। इसके अलावा चोरी और डकैती के सभी मामलों को सुलझाने में जोगिंद्रनगर पुलिस थाना शत प्रतिशत आगे रहा। उपमंडल पद्धर और जोगिंद्रनगर में हत्या जैसी मिस्ट्री को सुलझाने में भी थाना प्रभारी संदीप शर्मा का अहम योगदान रहा। जिला पुलिस की मासिक समीक्षा बैठक में जोगिंद्रनगर पुलिस थाना हर प्रकार के मामलों को सुलझाने में संदीप शर्मा अन्य पुलिस थानों के प्रभारियों से आगे रहे। संदीप शर्मा को यह सम्मान उनके कुशल प्रबंधन, उम्दा कार्यशैली पर भी मिला है और अब उनकी फोटो पुलिस अधीक्षक मंडी की डिजिटल स्क्रीन में प्रकाशित हुई है, जिस पर जोगिंंद्रनगर पुलिस थाने के अधीन आने वाली तीनों पुलिस चैोकियों के जवानों में खुशी की लहर है। इससे पहले गत वर्ष 26 जनवरी को उन्हें कुशल प्रबंधन पर भी सम्मानित किया जा चुका है। संदीप शर्मा ने अपनी कामयाबी का श्रेय पुलिस थाने के अधीन आने वाली सभी पुलिस चौकियों के जवानों को दिया है। डीएसपी मदनकांत शर्मा ने संदीप शर्मा को सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार मिलने पर बधाई दी है।

You might also like