सलूणी में अभिभावकों ने किया प्रदर्शन

स्कूल में अध्यापकों के पद न भरने पर निकाली रोष रैली, नायब तहसीलदार के माध्यम से सीएम को भेजा ज्ञापन

सलूणी—राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सलूणी में अध्यापकों व प्राध्यापकों के रिक्त पदों को भरने को लेकर सरकार व शिक्षा विभाग की ओर से कोई सकारात्मक कार्रवाई न होने नाराज अभिभावकों ने कस्बे में रोष रैली निकालकर अपना विरोध जताया। रैली के उपरांत अभिभावकों ने नायब तहसीलदार सलूणी अशोक धीमान के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर जल्द पाठशाला में रिक्त पदों को भरने की मांग उठाई है। अभिभावकों का कहना है कि तीस जुलाई तक रिक्त पदों को भरने को लेकर सकारात्मक कार्रवाई न होने की सूरत में वे पाठशाला परिसर में तालाबंदी जैसा बड़ा कदम उठाने से भी गुरेज नहीं करेंगे, जिसकी सारी जिम्मेदारी सरकार व शिक्षा विभाग की होगी। इससे पहले राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला की एसएमसी ने अभिभावकों संग आपात बैठक आयोजित की। बैठक की अध्यक्षता एसएमसी अध्यक्ष लेखराज ने की। उन्होंने बताया कि पाठशाला में अध्यापकों व प्राध्यापकों के 13 पद रिक्त चल रहे हैं। जिस कारण पाठशाला में अध्ययनरत छात्रों का भविष्य अधर में लटक गया है। उन्होंने कहा कि इन रिक्त पदों को भरने की बजाय शिक्षा विभाग यहां कार्यरत प्राध्यापकों की दूसरी पाठशालाओं में डेपुटेशन कर समस्या को ओर बढ़ा रहा है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में पाठशाला में प्रिंसीपल के अलावा टीजीटी आर्ट्स, पीजीटी गणित, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान व हिंदी के अलावा कम्प्यूटर साइंस के प्राध्यापकों का पद रिक्त चल रहा है। अभिभावकों ने बताया कि तीस जुलाई तक पाठशाला में रिक्त पदों को न भरा गया तो वे परिसर में ताला जड़ देंगे। और नौनिहालों को पाठशाला न भेजकर दूसरी जगह दाखिला करवाएंगे। बहरहाल, बुधवार को सलूणी पाठशाला की एसएमसी कमेटी के सदस्यों व अभिभावकों ने कस्बे में रोष रैली निकालकर अध्यापकों व प्राध्यापकों के रिक्त पदों को तीस जुलाई तक भरने की मांग उठाई है।

You might also like