सांगला में वीरभद्र का नींव पत्थर तोड़ा

सांगला—जिला किन्नौर में कांग्रेस सरकार के समय किए गए शिलान्यास पट्टीका को तोड़ने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। जिला कांग्रेस कमेटी ने जिला में कांग्रेस शासन काल के दौरान शिलान्यास की गई पट्टीकाओं को तोड़ने पर रिकांगापिओं, पुह, टापरी, व सांगला थाने में मामला दर्ज किया था लेकिन इसपर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वही हाल में बस स्टेंड सांगला के सामने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह व विद्यायक जगत सिंह नेगी द्वरा पार्किंग की शिलान्यास पट्टीका को पूरी तरह से धवस्त करने का मामला सामने आया है। कांग्रेसियों ने इसे राजनैतिक करार देते हुए बताया कि ऐसे शरारती तत्वों पर नकेल कसनी चाहिए । गौर रहें कि बस स्टेन्स सांगला सीसीटीवी की निगरानी में है जिसकी मोनेटरिंग पुलिस थाना सांगला से की जाती है। वहीं रात्रि में पुलिस का पहरा भी रहता है इसके बावजूद शिलान्यास पट्टीका को तोड़ना शरारती तत्वों के बुलंद होसले और पुलिस की नाकामी को दिखाता है। कांग्रेस के जिला अध्यक्ष उमेश नेगी ने बताया कि उक्त शिलान्यास राज वीरभद्र सिंह द्वारा किया गया था जिसमें बजट का प्रावधान करने के बाद कार्य भी आरंभ कर दिया था भाजपा की सरकार आते ही कार्य तो बंद हुआ ही अब उक्त पट्टीका को तोड़ा गया है। उन्होंने बातया कि सांगला में इससे पूर्व रक्छम में भी पट्टीका को तोड़ा गया है। शिलान्यास  पट्टीका को तोड़ने के का मामला रिकांगपिओं, पुह, टापरी व सांगला थाने में पहले से ही दर्ज है लेकिन अबतक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। अब इसपर कर्रवाई करने के लिए पुलिस थाना सांगला को शिकायत दर्ज करने जा रहें है। इस पर कार्र्रवाई नहीं होगी तो जिला कांग्रेस कमेटी उग्र प्रदर्शन करेगी।

You might also like