सीआईडी ने सड़क उखाड़ कर लिए सैंपल

नगर परिषद हमीरपुर में टेंडर गड़बडि़यों के मामले में जांच एजेंसी की दबिश

हमीरपुर  – नगर परिषद हमीरपुर के बहुचर्चित टेंडर गड़बडिय़ों के मामले में सीआईडी की टीम ने बुधवार को हमीरपुर में दबिश दी। स्पॉट पर पहुंची सीआईडी की टीम ने सड़क उखाड़कर सैंपल लिए। इस दौरान लोक निर्माण विभाग के अफसर भी मौके पर मौजूद रहे। बता दें कि टेंडर घोटाले को लेकर धोखाधड़ी का मामला हमीरपुर थाने में दर्ज किया गया था।  बाद में इस मामले को जांच के लिए सीआईडी को सौंप दिया गया था। सीआईडी इस मामले की छानबीन को लेकर पहले ही दो से तीन बार हमीरपुर में दबिश दे चुकी है। जानकारी के मुताबिक हमीरपुर में करीब दो साल पहले हुए लाखों रुपए के टेंडर घोटाले के मामले को लेकर सीआईडी की टीम ने बुधवार को उन सभी स्पोर्ट्स पर जाकर निर्माण कार्यों के सैंपल लिए जिन्हें लेकर गड़बडिय़ों की शिकायत पर हमीरपुर थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज है। बुधवार को शिमला से आई सीआईडी की टीम ने नगर परिषद के नाल्टी रोड स्थित बजूरी के पास गार्बेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए बनाई गई सड़क को उखाड़ कर इसके सैंपल लिए। इस मौके पर पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन और शिकायतकर्ता भी मौके पर मौजूद थे। बताते हैं कि टीम अब शहर के वार्ड- 4 स्थित उन गलियों के भी सैंपल लेगी जहां पर रास्तों के निर्माण को लेकर गड़बडिय़ों के आरोप लगे हैं। गौरतलब है कि नगर परिषद के इस टेंडर घोटाले में गड़बडिय़ों को लेकर शिकायतकर्ता ने आरोप लगाए थे कि बिना काम के ही तीन ठेकेदारों को नगर परिषद ने लाखों रुपए की पेमेंट कर दी थी। जब मामला सुर्खियों में आया तो आनन.फानन में टेंडरों को भी कैंसिल किया गया। इस मामले में तत्कालीन एसडीएम ने डीसी के निर्देशों पर सारे मामले की जांच कर सदर थाने में नगर परिषद के खिलाफ 420 का मामला दर्ज करवाया था। इसे लेकर पहले सदर पुलिस ने जांच की थी लेकिन करीब डेढ़ साल तक कोई भी नतीजा न निकलने के बाद इस सारे मामले की जांच का जिम्मा सीआईडी को सौंप दिया गया था । मामले को लेकर कई ठेकेदारों के भी बयान नगर परिषद के कर्मचारियों सहित दर्ज हुए थे। अभी मामला जांच में ही उलझा हुआ है और अब सैंपल लेने के लिए सीआईडी की टीम यहां पहुंची है। हालांकि बुधवार को सीआईडी द्वारा की गई इस कार्रवाई की किसी को भनक नहीं लगी। बताया जा रहा है कि सीआईडी की टीम बुधवार को हमीरपुर में ही रुकी है और गुरुवार को भी इस मामले को लेकर कार्रवाई हो सकती है।

You might also like