सोलन शहर में दिन दहाड़े चली गोलियां

दो नकाबपोश शातिरों ने कारोबारी के घर-गाड़ी पर किए फायर, बदमाशों की करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद

सोलन —सोलन के पॉवर हाउस रोड पर दिनदिहाड़े एक कारोबारी राजकुमार मित्तल के घर पर दो नकाबपोश हमलावरों ने गोली चला कर हमला कर दिया। हमलावरों के इस हमले से कोई हताहत नहीं हुआ, इस वारदात के बाद पूरे शहर में डर का माहौल बना हुआ है। बताया जा रहा है कि कारोबारी खुद घर पर मौजूद नहीं था। लेकिन हमलावरों ने उसकी गाड़ी की तरफ फायर किए, उस समय गाड़ी में उनका ड्राइवर बैठा हुआ था। गनीमत यह रही कि गोली ड्राइवर को भी नहीं लगी। इनमें से एक फायर का खाली खोखा पुलिस ने वारदात स्थल से बरामद भी कर लिया है। हैरत की बात है कि दिनदिहाड़े हुई इस घटना के बाद हमलावर आसानी से भागने में भी कामयाब हो गए, जबकि सपरून पुलिस चौकी से करीब 500 मीटर दूर कारोबारी का घर है। घटना मंगलवार सुबह 10 से सवा 10 बजे के बीच की है। यह सारी वारदात सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। इसमें साफ तौर पर दिखाई दे रहा है कि एक युवक व एक अन्य व्यक्ति काफी समय से घर के आसपास की रैकी कर रहे थे। इनमें से युवक घर से करीब 30 मीटर की दूरी पर खड़ा होकर कारोबारी के घर की ओर फायर करता है। एक फायर करने के बाद वह पुलिस चौकी सपरून की ओर भागते हुए भी दनादन गोलियां चलाता है, लेकिन सीसीटीवी फुटेज से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि उसके ये निशाने चूक गए। जिस समय यह घटना हुई उस दौरान स्कूली बच्चों सहित महिलाएं सड़क पर चलती हुई दिख रही है। गोलियों की आवाज सुनने के बाद आसपास के लोग भी सहमें हुए है।  चौकी की टीम भी तुरंत मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक हमलावर भागने के कामयाब हो गए। इसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सोलन मधुसूदन शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डा. शिव कुमार शर्मा टीम सहित मौके पर पहुंच गए। मधुसूदन शर्मा ने बताया कि पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे को अपने कब्जे में लेकर छानबीन शुरू कर दी है। दूसरी और पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दोनों हमलावरों के स्कैच जारी कर अन्य जिलों की पुलिस को भी दे दिए हैं। कुल मिलाकर अभी स्पष्ट तौर पर नहीं कहा जा सकता, लेकिन इसे दो शहर के दो कारोबारियों के बीच करोड़ों के लेनदेन से जुड़ा मामला बताया जा रहा है।

दूसरी बार हमला

कारोबारी राजकुमार मित्तल पर इस वर्ष जनवरी  में उनके ऑफिस में भी हमला हो चुका है। उस दौरान भी हमलावर कामयाब नहीं हुए थे। हमले के समय राजकुमार वॉशरूम में थे। इस कारण हमलावरों ने उनके कर्मचारी पर बंदूक तान दी थी।

मिल रही थी धमकियां….

पुलिस के अनुसार राजकुमार मित्तल को मोबाइल पर कुछ दिन पूर्व धमकियां मिली थी। इसकी शिकायत पर पुलिस ने कारोबारी को सुरक्षा भी मुहैया करवाई थी। जिस नंबर से धमकी भरे कॉल आ रहे थे, पुलिस ने उस नंबर को ट्रैप कर आरोपियों का पता लगाने के लिए कुछ टीमों को बाहरी राज्यों में भेजा है।

दफ्तर जाने का था समय…..

कारोबारी के घर पर गोलियां दागने के बाद माना जा रहा है कि हमलावर काफी समय से  क्षेत्र की रैकी कर रहे थे। वह उनके घर से ऑफिस निकलने के समय गोलियां दागने की फिराक में थे, लेकिन हमलावर इसमें कामयाब नहीं हुए।

You might also like