अश्वनी खड्ड उफान पर, आधा दर्जन सैलानी फंसे

कंडाघाट –पिछले 16 घंटे से हो रही बारिश के चलते अश्वनी खड्ड ने रौद्र रूप धारण कर लिया है। अश्वनी खड्ड में पानी का बहाव इतना आया कि साधुपुल से अश्वनी खड्ड को जाने वाला मार्ग इसके बहाव में बह गया। जिस कारण अश्वनी खड्ड में आधा दर्जन से ज्यादा पर्यटकों के वाहन फंस गए । अश्वनी खड्ड के किनारे लोगों द्वारा बनाए गए हट्स भी जलमग्न हो गए हैं। इन हट्स में कई पर्यटक फंस गए यदि अश्वनी खड्ड का बहाव और बढ़ता है तो हट्स में फंसे पर्यटक भी इसमंे बह सकते थे। वहीं साधुपुल में रविवार सुबह फिर एक बार भारी नाले के आने के कारण चायल-कंडाघाट मार्ग वाहनों को आवाजाही के लिए पूर्ण रूप से बंद हो गया है। मार्ग बंद होने के चलते सड़कों पर कई किलोमीटर तक वाहनों की लंबी कतारें लग गई है। साधुपुल में सड़क पर लगभग दस फीट तक मलबा आ गिरा है। साधुपुल में सड़क पर आए मलबे के कारण रेनबो होटल में भी  मलबा व पानी घुस गया है। इस मलबे में कई वाहन भी धंस गए है।  स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना एसडीएम कंडाघाट डा. संजीव धीमान को दी सूचना मिलने के बाद एसडीएम ने बंद मार्ग को खोलने को लेकर लोक निर्माण विभाग को  निर्देश दिए। यह पहली बार नहीं है कि साधुपुल में बने नाले में से मलबा आया हो इससे पहले तीन बार भी भारी मलबा आ गया है इस मलबे के आने से स्थानीय लोगों का अभी तक कई करोड़ों रुपए का नुकसान हो गया है। दस बजे लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी इस मार्ग को खोलने को लेकर साधुपुल पहंुच गए थे। साधुपुल में टूरिज्म विभाग द्वारा बनाए गए वाटर पार्क कैफे में भी अश्वनी खड्ड का पानी घुस जाने के कारण इसमेंे लगी मशीनों में मलबा फंस जाने के कारण सभी मशीनंे खराब हो गई।  साधुपुल से अश्वनी खड्ड को जाने वाली कच्ची सड़क मार्ग भी इस बहाव में बह गई।

You might also like