यूटी में ई-बीट सिस्टम शुरू करने की तैयारी

चंडीगढ़, मनीमाजरा -चंडीगढ़ पुलिस की तरफ  से हाई टेक कदम में जल्द बीट बॉक्स को ई-बीट बूथ सिस्टम में बदलने की प्रक्रिया तेज कर दी गई। एसएसपी नीलांबरी के नेतृत्व में तैयार किए जा रहे हाई-टेक सिस्टम ई-बीट बूथ के हर बीट इंचार्ज को टैबलेट दिए जाएंगे। यह सिर्फ टैबलेट नहीं होंगे, बल्कि पूरी पुलिसिंग इसके अंदर होगी। बीट इंचार्ज के पास पूरा डाटा होगा। टैब पर क्लिक करते ही शहर से जुड़ी हर जानकारी मिल जाएगी। एरिया में ज्वैलर्स की शॉप कितनी हैं, कहां हैं, मार्केट कहां, शॉप, शराब के ठेके कहां और कितने इस तरह से हर तरह की जानकारी एक क्लिक पर उपलब्ध होगी। इतना ही नहीं ऐप पर अपराधी और उसका पूरा काला चिट्ठा यानी रिकॉर्ड भी होगा। अभी यह जानकारी मैनुअल ही जुटानी पड़ती है।  नाके पर बीट इंचार्ज अपराधियों का डाटा देखकर तुरंत एक्शन ले सकता है। ई-बीट में इंटरएक्टिव फीचर भी होगा। यानी संबंधित एरिया के लोग बीट इंचार्ज से बात कर सकेंगे, अपने सुझाव तुरंत दे सकेंगे। इस हाई-टेक सिस्टम के बाद बीट की संख्या भी बढ़ेगी। चंडीगढ़ में इस समय कुल 146 बीट हैं। इनकी संख्या ई-बीट बूथ में बढ़कर 160 हो जाएगी।

एसएसपी नौनिहाल सिंह ने की थी शुरुआत

साल 2014 में चंडीगढ़ के तत्कालिन एसएसपी नौनिहाल सिंह ने पुलिसिंग को स्मार्ट करने के लिए ई-बीट बूथ सिस्टम को लागू किया था। जिसके अनुसार बीट बॉक्स के इंचार्ज और तैनात पुलिसकर्मी सीधा रिपोर्ट देते थे। इसके अलावा एक स्तर की शिकायत भी बीट पुलिस स्वीकार करने लगी। इस पहल को कुछ समय के बाद बंद कर दिया गया। अब दोबारा से शुरू करने की तैयारी अंतिम चरण पर है।

You might also like