कल आठ बजे के बाद छोटी डुबकी।

भरमौर। मणिमहेश यात्रा के तहत जन्माष्टमी पर्व पर डल झील में छोटा शाही स्नान शुक्रवार सुबह आठ बजकर नौ मिनट पर शुरू होगा और यह शनिवार सुबह आठ बजकर 39 मिनट तक चलेगा। जन्माष्टमी के न्हौण को लेकर यात्रियों की आवाजाही शुरू हो गई है। वहीं पड़ोसी राज्य जम्मू-कश्मीर के भद्रवाह से भी शिवभक्त टोलियों में डल की ओर रूख कर रहे हैं। भरमौर के पंडित सुमन शर्मा बताते है कि जन्माष्टमी महोत्सव में मणिमहेश यात्रा का विशेष महत्व है और यहां किए गए स्नान को शाही स्नान बताया गया है, जिसका भी अपना ही महत्त्व है। सुमन शर्मा के अनुसार शास्त्रों में कहा गया है कि इस दिन डल झील पर स्नान करने से पाप धुलते हैं और रोगों से मुक्ति मिलती है।

You might also like