काथला-तियून संपर्क सड़क पर मलबा-पत्थर गिरने से बंद

स्वारघाट -रविवार देर शाम और सोमवार सुबह हुई भारी बारिश से नेशनल हाई-वे 205 चंडीगढ़-मनाली से जुड़ा काथला-तियून संपर्क मार्ग एक बार फिर मलबा-पत्थर गिरने से बंद हो गया है, जो सोमवार शाम तक बंद रहा। सड़क बंद होने से काथला, तियून व बेपड़ आदि गांवों के लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कई लोगों को अपने वाहन सड़क किनारे खड़े कर पैदल ही स्वारघाट तक पहुंचना पड़ा। बता दें कि उक्त सड़क पर जहां स्लाइडिंग हुई है वह गांव धारभरथा निवासी चेत राम पुत्र मुंशी राम की घासनी है, जो कि करीब 15 बीघा की है और हर साल हो रही स्लाइडिंग से करीब पांच बीघा जमीन खराब हो चुकी है। लोक निर्माण विभाग जितना मलबा-पत्थर यहां से उठा रहा है उससे चार गुना अधिक मलबा व पत्थर घासनी से स्लाइड होकर सड़क गिर रहे हैं। चेत राम व उसके परिवार ने लोक निर्माण विभाग  को चेतावनी दी है कि जब तक उनकी समस्या का समाधान नहीं होता तब तक सड़क से मलबा-पत्थर न हटाया जाए और यदि विभाग लेबर या मशीन मलबा-पत्थर उठाने के लिए लगाता है, तो वह और उसका परिवार सड़क पर धरने पर बैठ जाएगा।

You might also like