खतरनाक हुए शोएब मलिक

टी-20 कनाडा लीग में छक्के जड़ तोड़े डे्रसिंग रूम के शीशे

नई दिल्ली  – वर्ल्ड कप-2019 के दौरान वनडे इंटरनेशनल से संन्यास ले चुके पाकिस्तानी बल्लेबाज शोएब मलिक शानदार फॉर्म में हैं। 37 साल के मलिक ग्लोबल टी-20 कनाडा लीग में अपनी जोरदार बल्लेबाजी से सुर्खियों में हैं। पिछले दिनों उन्होंने ऐसे छक्के जड़े कि खिड़की के शीशे चकनाचूर हो गए। शोएब मलिक इस पूरे टूर्नामेंट में अब तक एक बार भी आउट नहीं हुए हैं। पाकिस्तान के बल्लेबाज शोएब मलिक ने ब्रैम्पटन के सीएए सेंटर में वैंकूवर नाइट्स की कप्तानी करते हुए तूफानी बल्लेबाजी की। टूर्नामेंट के क्वालिफायर-1 मुकाबले में उन्होंने ब्रैम्पटन वूल्व्स के खिलाफ 26 गेंदों में चार चौके और तीन छक्के के सहारे से 46 रन की नाबाद पारी खेली। इस दौरान शोएब ने कैरेबियाई धुरंधर आंद्रे रसेल (21 गेंदों में 43 रन) के साथ ब्रैम्पटन वूल्व्स के गेंदबाजों की जमकर धुलाई की। न्यूजीलैंड के स्पिनर ईश सोढ़ी 16 ओवरों के मुकाबले में 13वां ओवर फेंक रहे थे। उस ओवर की दूसरी गेंद पर मलिक ने कवर के ऊपर से 68 मीटर लंबा छक्का लगाया और गेंद सीधे एक खिड़की के कांच से टकराई और वह चकनाचूर हो गया। उन्होंने अगला कांच तोड़ने वाला छक्का हमवतन वहाब रियाज की गेंद पर लगाया। वहाब की गेंद पर उन्होंने 67 मीटर का ऐसा छक्का जड़ा कि वह भी सीसीए सेंटर की एक खिड़की के कांच से टकराया और वह भी टूट गया। शोएब मलिक की टीम यह मुकाबला जीतने में सफल रही।

You might also like