गिरि नदी में अवैध खनन करते एक दर्जन टै्रक्टर पकड़े

पांवटा साहिब -आखिरकार पांवटा साहिब में अवैध खनन माफिया पर प्रशासन का शिकंजा कसने लगा है। मीडिया द्वारा गिरि और यमुना नदी में अवैध खनन की लगातार खबरें छापने व दिखाने के बाद माइनिंग विभाग सहित स्थानीय प्रशासन और पुलिस हरकत में आए हैं। गिरि नदी में अवैध तौर पर खनन सामग्री उठा रहे करीब एक दर्जन टै्रक्टर विभाग के हत्थे चढ़े हैं।  मीडिया में आई खबरों के बाद माइनिंग इंस्पेक्टर ने प्रशासन और पुलिस के साथ मिलकर अवैध खनन के खिलाफ संयुक्त कार्रवाई की है। इस एक्शन के दौरान एक दर्जन के करीब टै्रक्टर कब्जे में लिए हैं। गौर हो कि हाल ही में यमुना और गिरि नदी पर खनन में जुटे सैकड़ों टै्रक्टर की वीडियो वायरल हुई जिसे मीडिया द्वारा भी प्रमुखता से दिखाया गया था, जिसके बाद माइनिंग, वन और पुलिस विभाग ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए अवैध खनन करने वालों पर बड़ी कार्रवाई की है, जिसमें एक दर्जन के करीब टै्रक्टर कब्जे में लिए गए हैं। उधर यदि जानकारों की मानें तो क्षेत्र में चल रहे क्रशर में इन अवैध खनन माफियाओं के तार जुड़े हुए हैं। कई क्रशर में सरकारी वॉल्यूम से कहीं अधिक रॉ मैटीरियल पड़ा हुआ है, जिसकी यदि पैमाइश की जाए तो सारा गोलमाल साफ हो जाएगा। उधर, इस बारे एसडीएम पांवटा एलआर वर्मा ने बताया कि संयुक्त कार्रवाई के दौरान गिरि नदी में 12 ट्रैक्टर्ज अवैध खनन करते हुए पकड़े गए हैं। ऐसी ही संयुक्त कार्रवाई भविष्य में भी जारी रहेगी। इस आपरेशन में राजबन चौकी प्रभारी रवि कुमार, हैड-कांस्टेबल ओम प्रकाश, खनन निरीक्षक मंगत राम की अगवाई में विभागों की 20 से अधिक सदस्यों की टीम ने मिलकर इस आपरेशन को सफल बनाया।

 

 

You might also like