थाने में पेश नहीं हुआ असिस्टेंट ड्रग कंट्रोलर

शिमला, बीबीएन –सहायक दवा नियंत्रक निशांत सरीन रविवार को विजिलेंस में पेश नहीं हुआ। हांलाकि विजिलेंस ने रविवार को पेश होने के लिए नोटिस दिया था, लेकिन आरोपी के सभी मोबाइल नंबर बंद हैं। विजिलेंस की टीम ने उसकी तलाश के लिए प्रदेश सहित बाहरी राज्यों में दबिश दे दी है। राज्य विजिलेंस एवं एंटी क्रप्शन ब्यूरो की कार्रवाई के बाद बद्दी में तैनात सहायक दवा नियंत्रक निशांत सरीन भूमिगत हो चुका है। रविवार को भी आरोपी की तलाश को लेकर विभिन्न स्थानों पर जांच टीम ने दबिश दी, लेकिन कोई पता नहीं चल पाया है। विजिलेंस ने आरोपी के घर में नोटिस भेज उसे रविवार को विजिलेंस के जिला सोलन थाने में तलब किया, लेकिन वह पेश नहीं हुआ। सूत्रों के मुताबिक भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे अधिकारी करोड़ों रुपए की संपत्ति के मालिक बताया जा रहा है। सरीन के विभिन्न ठिकानों में हुई दबिश के दौरान कई बेनामी संपत्तियों से जुड़े दस्तावेज हाथ लगे हैं। इसके साथ ही चडीगढ़ व हरियाणा में चार फ्लैट व प्लांट सहित अन्य संपत्तियों से जुड़े कुछ दस्तावेज मिलने की बात कही जा रही है। जांच एजेंसी ने फरार आरोपी के मोबाइल नंबरों पर भी संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन स्विच ऑफ होने के चलते संपर्क नहीं हो पाया। विजिलेंस को दबिश के दौरान जांच टीम को सात लाख से अधिक की नकदी हाथ लगी है। सूत्रों के अनुसार सरीन पर दवा निर्माता कंपनियों को लाइसेंस देने और रिन्यू करने के साथ ही महंगे होटलों में ठहरने के लिए भी घूस लेने के आरोप है। देश और विदेश के दौरे को लेकर एयर टिकट सहित अन्य खर्च से जुड़ी शिकायतें भी मिली है।

ज़मानत की फिराक में आरोपी

बीबीएन। विजिलेंस की छापेमारी के बाद से अंडरग्राउंड हुए असिस्टेंट ड्रग कंट्रोलर निशांत सरीन का तीन दिन बाद भी कोई सुराग नहीं लग पाया है। विजिलेंस ने निशांत सरीन को जांच में शामिल होने के लिए बाकायदा नोटिस जारी किया था, लेकिन रविवार को विजिलेंस की टीम सोलन में देर शाम तक निशांत सरीन का इंतजार करती रही, लेकिन वह हाजिर नहीं हुआ। बताया जा रहा है कि असिस्टेंट ड्रग कंट्रोलर गिरफ्तारी के डर से अग्रिम जमानत की फिराक में है, इसी के चलते वह फरार चल रहा है। हालांकि इसके बावजूद विजिलेंस की टीमें उसकी धरपकड़ के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश भी दे रही हैं, लेकिन कोई अता-पता नहीं चल पाया है। फिलवक्त स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम छापेमारी के दौरान बरामद दस्तावेजों की सघन पड़ताल कर रही है, इसके अलावा एयर टिकट, होटल के बिल, नकदी सहित बरामद किए गए अन्य कीमती सामान, संपति के ब्यौरे को भी खंगाला जा रहा है। स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरों के अधिकारी  ने बताया कि अभी तक असिस्टेंट ड्रग कंट्रोलर निशांत सरीन के बारे में कोई सुराग नहीं लग पाया है, लेकिन तलाश लगातार जारी है। हर पहलू की गहनता से पड़ताल कर रहे हैं।

You might also like