धारा 118 में संशोधन नहीं तो चर्चा कैसी

विपक्ष के नेताओं पर बिफरे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर बोले, मानसून सत्र में सरकार हर जवाब देने को तैयार

शिमला – शिमला में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि जब सरकार ने धारा 118 में कोई संशोधन किया ही नहीं, तो फिर हल्ला क्यों मच रहा है। उन्होंने विपक्षी दल के नेताओं पर बरसते हुए कहा कि इससे पहले भी वे बिना वजह शोरगुल करते रहे हैं और परिणाम वे लोकसभा चुनाव में भुगत चुके हैं। भाजपा को लोकसभा के चुनाव में रिकार्ड जीत मिली है। ्रमुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने स्पष्ट कहा कि सरकार ने धारा 118 में न तो कुछ जोड़ा है और न ही उससे कुछ बाहर निकाला है। संशोधन तो पूर्व में कांग्रेस की सरकारें ही करती आई हैं, लेकिन फिर भी बेवजह हल्ला किया रहा है। बावजूद इसके यदि विधानसभा के भीतर कांग्रेस इस मुद्दे पर चर्चा करेगी तो सरकार उसका जवाब देगी। जयराम ठाकुर ने कहा कि मानसून का सत्र काफी लंबा है, क्योंकि लोकसभा चुनाव के दौरान बजट सत्र में पूरी बैठकें नहीं हो सकी थीं। फिर भी यदि सदन चाहेगा तो सरकार सत्र को आगे बढ़ाने के लिए भी तैयार है। विपक्ष जो भी पूछेगा, उसे उसका जवाब दिया जाएगा, जिसके लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह से तैयार है। बता दें कि विपक्षी दल कांग्रेस इन्वेस्टर मीट के बहाने सदन में धारा 118 पर चर्चा को लेकर तैयारी कर रही है। जम्मू-कश्मीर की तर्ज पर कुछ नेताओं ने संसद में भी हिमाचल की इस धारा का जिक्र किया था, जिसके बाद मामला गरमाया हुआ है।

सौहार्दपूर्ण ढंग से चलने दें सदन की कार्यवाही

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि सदन में जो भी मामला उठेगा, उसका माकूल जवाब मिलेगा। वह चाहते हैं कि सदन की कार्रवाई सौहार्दपूर्ण ढंग से चले। सत्तापक्ष व विपक्ष के सभी विधायक इस कार्रवाई को सुचारू रूप से चलाने में अपना सहयोग दें। उन्होंने कहा कि इस सत्र में कई कानून लाए जाएंगे, जिनमें संशोधन होना है। वहीं, कई प्रस्ताव हैं जिनपर विस्तार से चर्चा की जाएगी। प्रदेश के हित में सही ढंग से सदन चले, इसे सुनिश्चित बनाया जाएगा।

You might also like