पुलिस कर्मियों को बताया, कैसे रहें तनावमुक्त

सोलन – पुलिस अधीक्षक सोलन मधुसूदन शर्मा ने कहा कि आज के इस तनावपूर्ण जीवन में प्रत्येक व्यक्ति को योग एवं व्यायाम नियमित रूप से करना चाहिए ताकि वे स्वस्थ रहें और राष्ट्र निर्माण में अपनी सार्थक भूमिका निभा सकें। मधुसूदन शर्मा गुरुवार को पुलिस ग्राउंड सोलन में जिला आयुर्वेद विभाग सोलन द्वारा ‘योग एवं जीवन शैली’ विषय पर आयोजित जागरूकता शिविर के शुभारंभ के अवसर पर उपस्थित प्रतिभागियों को संबोधित कर रहे थे। यह तीन दिवसीय योग शिविर विशेष रूप से पुलिस कर्मियों व उनके परिजनों के लिए आयोजित किया जा रहा है। मधुसूदन शर्मा ने कहा कि योग जहां हमें मानसिक रूप से सुदृढ़ करने में सहायता करता है वहीं इससे व्यक्ति शारीरिक रूप से स्वस्थ एवं पुष्ट भी बनता है। उन्होंने कहा कि योग समय की आवश्यकता है तथा युवा पीढ़ी को अपनी दिनचर्या में इसे नियमित रूप से अपनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विश्व को योग भारत की देन है और प्रत्येक नागरिक का यह कर्तव्य है कि वह न केवल स्वयं योग करे अपितु अपने परिजनों को भी योग करने के लिए प्रेरित करें। कार्यक्रम में जिला आयुर्वेद अधिकारी सोलन डा. राजेंद्र शर्मा ने प्रतिभागियों को योग की आधुनिक जीवन में उपयोगिता विषय पर सारगर्भित जानकारी प्रदान की। डा. राजेंद्र शर्मा ने कहा कि सोलन जिला के सभी विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों,  विद्यालयों के साथ-साथ पंचायत स्तर पर इस प्रकार के योग शिविरों का आयोजन समय-समय पर किया जाएगा, ताकि एक स्वस्थ व नशामुक्त समाज के निर्माण  के लिए नागरिकों को तैयार किया जा सके। आयुर्वेदिक विभाग की वरिष्ठ आयुर्वेदिक चिकित्सक एवं योग गुरु डा. अनीता गौतम, डा. मंजेश शर्मा, प्रशिक्षित योग शिक्षिका आशा रानी द्वारा प्रतिभागियों को योग की विभिन्न मुद्राओं, आसनों एवं आवाहर-विहार की जानकारी प्रदान की गई। इस अवसर पुलिस उपाधीक्षक परवाणू योगेश रोल्टा, पुलिस उपाधीक्षक सोलन (एलआर) रमेश शर्मा, अन्य गणमान्य व्यक्ति एवं बड़ी संख्या में प्रतिभागी उपस्थित थे।

You might also like