पुलिस भर्ती : नए सिरे से होगी परीक्षा

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर बोले, उम्मीदवारों को नहीं देनी होगी अतिरिक्त फीस

शिमला – पुलिस कांस्टेबल भर्ती के लिए रविवार को आयोजित लिखित परीक्षा रद्द होने के बाद अब यह परीक्षा नए सिरे से आयोजित की जाएगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा पुलिस भर्ती परीक्षा में कुछ बाहरी लोगों के अन्य नाम से परीक्षा देते हुए पकड़े जाने के मामले की जांच के लिए उपमंडल पुलिस अधिकारी पालमपुर के नेतृत्व में एक विशेष जांच दल का गठन किया गया है तथा परीक्षा को तुरंत रद्द कर दिया गया है, ताकि प्रदेश के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ न हो। सोमवार को शिमला में मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए कहा उन्होंने कहा कि लिखित परीक्षा से पहले ही कांगड़ा जिले में विशेष गुप्त सूचना मिली थी कि प्रदेश के बाहर के राज्यों के कुछ शातिर अन्य लोगों के स्थान पर लिखित परीक्षा देने की योजना बना रहे हैं, जिसके आधार पर परीक्षा शुरू होने से पूर्व ही तीन व्यक्तियों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया तथा दो अन्यों को परीक्षा केंद्र से गिरफ्तार किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसी दौरान परीक्षा केंद्र के आसपास संदिग्ध हालत में घूमती एक हरियाणा नंबर की गाड़ी को पकड़ा गया, जिसमें नकल करने के उपकरण लगी तीन बनियानें बरामद की गईं और जवाली क्षेत्र में मुख्य सरगना के घर से पुलिस ने 11 लाख रुपए भी बरामद किए हैं। उन्होंने कहा कि मामले में अब तक कुल 17 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि वे प्रतियोगी परीक्षा के लिए अपनाई जाने वाली बेहतर प्रणाली का प्रयोग करें और इसी आधार पर पुलिस भर्ती के लिए दोबारा लिखित परीक्षा का आयोजन करें, जिसके लिए उम्मीदवारों को कोई अतिरिक्त फीस नहीं देनी होगी। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में 1063 कांस्टेबलों की भर्ती के लिए पिछले चार महीने से प्रक्रिया जारी थी। रविवार को लिखित परीक्षा के दौरान कांगड़ा में फजीबाड़े का पता चला और देर रात 11 बजे सरकार ने परीक्षा रद्द कर दी।

डीजीपी ने तलब किए एसपी कांगड़ा 

पुलिस मुख्यालय शिमला में मंगलवार को भर्ती प्रक्रिया मसले पर अहम बैठक होगी। डीजीपी सीता राम मरड़ी की अध्यक्षता में होने वाली इस बैठक में एसपी कांगड़ा को भी तलब किया गया है। पुलिस महानिदेशक एसपी कांगड़ा से पूरी रिपोर्ट लेंगे। यानी कहां कमियां थी और फर्जीबाड़े के पीछे मास्टर माइंड कौन हैं, इत्यादि के बारे में पूछा जाएगा। इसके साथ-साथ लिखित परीक्षा की अगली तिथि पर भी फैसला होना है।

पुलिस भर्ती फर्जीबाड़े में चार और गिरफ्तार

धर्मशाला – पुलिस लिखित भर्ती मामले में पूछताछ के बाद चार और आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। मामले में अब तक कुल 17 गिरफ्तारियां हो गई हैं, जबकि आगे भी कई बड़े सरगना हाथ में आ सकते हैं। पकड़े गए आरोपियों में मनोज कुमार (21) पुत्र चमन लाल निवासी कंडवाल नूरपुर, विनीत कुमार (21) पुत्र विजय कुमार निवासी जेरु बैजनाथ, सोनू जरियाल (30) पुत्र होशियार सिंह निवासी जवाली, कमल (19) पुत्र चनन सिंह निवासी जवाली को भी पकड़ लिया है। उक्त सभी को पांच दिन का पुलिस रिमांड दिया गया है।

You might also like