प्रदेश भर में एचआरटीसी के 1000 रूट ठप

जगह-जगह भू-स्खलन से थमे पहिए

शिमला  – हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के बाद अस्त-व्यस्त हुआ जनजीवन सोमवार को भी पट्टरी पर नहीं लौट पाया है। भू-स्खलन होने व सड़कों के धंसने से राज्य में अभी भी काफी संख्या में मार्ग अवरुद्ध हैं। जगह-जगह मार्ग अवरुद्ध होने से सोमवार को भी पथ परिवहन निगम की बसों के पहिए थमे रहे। हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश ने जमकर कहर बरपाया है। राज्य के अधिकतर क्षेत्रों में भू-स्खलन होने से जनजीवन अस्त-व्यस्त चल रहा है। प्रदेश में सड़कों के बंद होने से एचआरटीसी के दूसरे दिन भी 1000 के करीब रूट प्रभावित रहे। बस सेवा प्रभावित होने से जहां यात्रियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पडा, वहीं निगम को भी नुकसान हो रहा  है। भू-स्खलन होने के कारण  जिला शिमला, सिरमौर, चंबा, मंडी व कांगड़ा में सबसे ज्यादा रूट प्रभावित चल रहे हैं। जिला शिमला के ऊपरी क्षेत्रों में भू-स्खलन होने से जगह-जगह सड़कें बंद हैं। मार्ग अवरुद्ध होने से पथ परिवहन निगम की कई बसें यहां-वहां फंसी हुई हैं। ऐेसे मे यातायात सुविधा के लिए मार्ग बहाल होने का इंतजार किया जा रहा है। एचआरटीसी के मंडलीय प्रबधक पंकज सिंघल ने बताया कि बारिश से सड़कों के अवरुद्ध होने से प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में रूट प्रभावित हुए हैं।

You might also like