बारिश ने धो डाला हिमाचल

हमीरपुर की मान खड्ड में बचाए टीचर-स्टूडेंट

दो दिन हुई भारी बारिश ने प्रदेश को गहरे जख्म दिए हैं। हालांकि अभी भी जनजीवन पटरी पर नहीं लौटा है। सोमवार को भी प्रदेश भर के नदी-नाले उफान पर रहे। जगह-जगह हुए भू-स्खलन के कारण सैकड़ों सड़कों पर वाहनों की आवाजाही ठप रही। इसके अलावा जगह-जगह गाडि़यां फंसी रहीं…

हमीरपुर – बड़सर उपमंडल के तहत लोअर हड़ेटा में सोमवार सुबह उस वक्त अफरा-तफरी मच गई, जब सीनियर सेकेंडरी स्कूल हड़ेटा आ रहे तीन शिक्षक और दो छात्र साथ लगती मान खड्ड में दूर तक बह गए। बाद में स्थानीय लोगों के सहयोग से उन्हें सुरक्षित निकाला गया। बताते हैं कि इस घटना के करीब डेढ़ घंटे बाद बचाव दल के लोग मौके पर पहुंचे। मान खड्ड में फंसे इन लोगों की पहचान प्रिंसीपल सुनील कुमार, डीपी पवन कुमार, सुरेश कुमार और जमा एक में पढ़ने वाले छात्र अनुराग के रूप में हुई है। बाद में बचाव दल के लोगों ने नदी पार कर रहे 12 अन्य बच्चों को सुरक्षित स्कूल तक पहुंचाया। जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह जिस वक्त सीनियर सेकेंडरी स्कूल हड़ेटा के प्रिंसीपल सहित तीन शिक्षक और एक छात्र साथ बहती मान खड्ड को पार कर स्कूल जा रहे थे, तो अचानक जलस्तर बढ़ गया। इससे वे सभी बहने लगे। लोगों ने जब उन्हें बहते हुए देखा, तो वे मदद के लिए दौड़े। कई लोगों ने आपदा प्रबंधन, पुलिस और दमकल विभाग को दूरभाष पर इसकी सूचना भी दी। बताया जा रहा है कि सूचना मिलने के करीब डेढ़ घंटे बाद बचाव दल के लोग नदी में फंसे शिक्षकों और छात्र को बचाने के लिए पहुंचे, लेकिन तब तक स्थानीय लोगों की मदद से उन्हें बाहर निकाला जा चुका था। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो जब तीनों शिक्षक और छात्र नदी में बहने लगे तो उन्होंने एक-दूसरे को कस कर पकड़ रखा था। लेकिन पानी का बहाव लगातार तेज होता गया और वे काफी दूर तक बह गए। बाद में आसपास के लोगों ने उन्हें बाहर निकाला। उन्हें उपचार के लिए गलोड़ अस्पताल ले जाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार देने के बाद  उन्हें घर भेज दिया गया।

You might also like