बेली ब्रिज के मुहाने पर गिरा डंगा

प्रशासन ने बंद की गाडि़यों की आवाजाही, चार महीने में ही जवाब दे गया संपर्क मार्ग

कुल्लू -बरसात ने आखिर जिला प्रशासन और लोक निर्माण विभाग की पोल खोल दी है। शनिवार को जिला कुल्लू में हुई भारी बारिश से जहां तहां लोक निर्माण विभाग के डंगे गिरने से मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं। वहीं, मात्र चार महीने के भीतर ही जिला मुख्यालय स्थित अखाड़ा बाजार में बेली ब्रिज शनिवार दोपहर से वाहनों की आवाजाही के लिए बंद हो गया है। बता दें कि ऊझी घाटी में झमाझम बारिश होने से ब्यास नदी का जलस्तर अचानक बढ़ा और अखाड़ा बाजार से लेफ्ट बैंक मार्ग को जोड़ने वाले बेली ब्रिज के लेफ्ट बैंक की साइट के मुहाने पर जहां सड़क का डंगा गिरा। वहीं, नदी में आई बाढ़ से कलवर्ट बंद होने से पुल को खतरा उत्पन्न हो गया और सड़क में दरारें आई गइर्ं। ऐसे में पुलिस विभाग ने पुल से होकर वाहनों की आवाजाही रोक दी है। यदि मौसम यंू ही रहा तो पुल को भी खतरा हो सकता है। लिहाजा, चार महीने के भीतर  बरसात ने लोक निर्माण विभाग की पोल भी खोल दी है। इस मुहाने पर ब्यास नदी का पानी भी रूक रहा है। इससे ब्यास नदी के बीच टापू में बने मंदिर को भी खतरा हो सकता है। बता दें कि 16 अप्रैल को उपायुक्त ने अखाड़ा बाजार से लेफ्ट बैंक को जोड़ने वाले वैली पुल का उद्घाटन किया था। उधर, पुल बंद होने से दिनभर अखाड़ा बाजार में ट्रैफिक जाम भी लगा रहा। वहीं, रामशिला के पास भी नाले का जलस्तर बढ़ने से पानी सड़क से बह गया। लोगों को सड़क आरपार करनी मुश्किल हो गई। इसके अलावा ढालपुर में भी भारी बारिश होने से पानी सड़कों में बह गया। अस्पताल से कालेज गेट तक निकास नालियां नहीं होने से पानी सड़क पर बहता रहा। वहीं, काथी के पास भी नाले में पानी बढ़ जाने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

You might also like