बॉर्डर पर चौकियां तबाह मारे गए कई पाक सैनिक

सीमा पर गोलाबारी से जवान शहीद होने के बाद भारतीय सेना ने लिया बदला

श्रीनगर – जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने से बौखलाया पाकिस्तान आतंकी घुसपैठ कराने के लिए एलओसी और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है, जिसका भारत मुंहतोड़ जवाब दे रहा है। भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई में शनिवार को जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर के पास पाकिस्तानी सेना की कई चौकियों को तबाह कर दिया है। भारतीय सेना के मुताबिक जवाबी कार्रवाई में कई पाकिस्तानी सैनिकों की भी मौत हुई है। पाकिस्तान की ओर से सुबह लगभग 6ः30 बजे सीजफायर का उल्लंघन किया गया था। पाकिस्तानी सेना की फायरिंग में सुबह एक भारतीय जवान संदीप थापा शहीद हो गए। रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने बताया कि भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के कई सैनिक मारे गए हैं। उन्होंने बताया कि नौशेरा सेक्टर पर पाकिस्तान की तरफ से सीजफायर के उल्लंघन के जवाब में भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तानी सेना की कई चौकियों को काफी नुकसान पहुंचाया है और कई पाक सैनिक मारे गए हैं। पाक फायरिंग में शहीद जवान संदीप थापा 35 साल के थे और वह देहरादून के राजावाला गांव के रहने वाले थे। उन्होंने अपने पीछे पत्नी निशा थापा को छोड़ा है। गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर से 370 हटने के बाद से बौखलाए पाक की तरफ से भारतीय सीमा पर लगातार नापाक हरकतें जारी हैं। पाक की तरफ से सीमा को अशांत करने की कोशिशें जारी हैं। इसी क्रम में भारतीय सेना ने गुरुवार रात केरन सेक्टर में पाक सीमा से घुसपैठ की एक कोशिश को नाकाम कर दिया था। हाल ही में सीमा पर पाक के ऐसे ही दुस्साहस का भारतीय सेना ने माकूल जवाब दिया, जिसमें कई पाक  सैनिक मारे गए। हालांकि, पाकिस्तानी सेना ने अपने चार जवानों के मारे जाने की बात कबूल की। सेना के सूत्रों का कहना है कि कश्मीर पर भारत के फैसले के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सारे प्रयासों के नाकाम होने के बाद पाकिस्तान ने अब आतंकियों को भारत में भेजने की कोशिश तेज कर दी है। भारत में आतंकी भेजने की मंशा से पाकिस्तान ने एलओसी पर कई प्वाइंट तय किए हैं। घुसपैठ के लिए पाक ने पीओके में नीलम वैली के पास स्थित काली घाटी एरिया में एक बड़ा कम्युनिकेशन हब भी विकसित किया है। इसका काम भारत में घुसपैठ करने वाले आतंकियों की मदद करना है।

घाटी में पाबंदियों में ढील

श्रीनगर – आर्टिकल 370 हटाने के बाद से जम्मू-कश्मीर में जारी पाबंदियों में धीरे-धीरे ढील दी जा रही हैं। जम्मू में तो स्कूल-कालेज पहले ही खुल गए थे अब, वहां मोबाइल और इंटरनेट सेवा को शुरू कर दिया गया है। जम्मू में 2जी स्पीड के साथ नेट सेवा को बहाल किया गया है। कश्मीर में भी लैंडलाइन सेवा को बहाल कर दिया गया है।

You might also like