मनाली में अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धाजंलि

मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से स्थापित की जाने वाली अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा की रखी आधारशिला

मनाली -हिमाचल प्रदेश के लोगों ने शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी पहली पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित की। इस अवसर पर मुख्य समारोह कुल्लू जिला के मनाली स्थित अटल बिहारी वाजपेयी पर्वत्तारोहण एवं संबद्ध खेल संस्थान में आयोजित किया गया। खराब मौसम के कारण मुख्यमंत्री वहां नहीं पहुंच सके और उन्होंने शिमला से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अटल स्मृति समारोह को संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वाजपेयी ने राष्ट्र को गतिशील नेतृत्व प्रदान किया और उन्हें विश्व में एक महान नेता के रूप में पहचान प्राप्त है। वे एक ऐसे नेता थे, जिनका सम्मान सभी पार्टी के लोग समान रूप से करते थे और सदन के भीतर एवं बाहर उनके व्याख्यानों को ध्यानपूर्वक सुनते थे। उन्होंने कहा कि अटल जी अपनी भाषण शैली के लिए प्रसिद्ध थे तथा दूर.दूर से लोग उनकी सभाओं में शामिल होने आते थे। इस दौरान उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला जगतसुख के 2.62 करोड़ रुपए से निर्मित भवन का लोकार्पण किया और 2.80 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित होने वाली कृत्रिम रॉक क्लाइमिंग वाल की आधारशिला भी रखी। उन्होंने नाबार्ड के अंतर्गत 4.24 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित होने वाली शिला हलाण से तराशी और दचाणी संपर्क सड़क की आधारशिला भी रखी। परिवहन और वन मंत्री गोविंद ठाकुर, सांसद राम स्वरूप शर्मा और विधायक सुरेंद्र शौरी भी इस अवसर पर मनाली में उपस्थित थे। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने शिमला स्थित पार्टी कार्यालय जाकर स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी को पुष्पाजंलि अर्पित की।  इस अवसर पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जानकारी दी कि अटल बिहारी वाजपेयी जी की ओर से प्रदेशवासियों विशेषकर जनजातीय क्षेत्र जिला लाहुल-स्पीति के लिए करोड़ों रुपए की लागत से बनने वाली रोहतांग टनल एक बड़ा उपहार है।

You might also like