मुनाफाखोर कंपनियों पर मांगी कार्रवाई

भारतीय किसान संघ जिला कुल्लू ने प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

कुल्लू -एचटीवीटी बीज एवं खाद्य सफलों के बीटी बीज को किसानों तक पहुंचाने वालों पर भारतीय किसान संघ जिला कुल्लू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से कार्रवाई करने की मांग की है। शुक्रवार को भारतीय किसान संघ कुल्लू ने मुख्यालय में एक रैली भी निकाली और प्रशासन के माध्यम से प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन सौंपा गया। संघ का कहना है कि एचटीवीटी कपास, बीटी बैंगन व जीएम सरसों के लिए संसद भवन तक हंगामा हो रहा है। यह हंगामा पहली बार नहीं हुआ है, लेकिन कई बार हुआ है। लेकिन जब कंपनियों को लगता है कि गैर कानूनी तरीके से दूसरे जीएम बीज को बाजार में उतार सकते हैं और फिर इसी कोशिश में लग जाते हैं, तब ऐसा हंगामा शुरू हो जाता है। पहला जीएम फसल बीटी कपास तो फेल हो चुका है, बाकी कोई भी जीएम फसलों को अभी तक अनुमति नहीं  मिली है। जबसे जीएम फसलों के नाम पर बीटी कपास की खेती का देश में प्रचलन हुआ,अभी से मुनाफाखोर बीज कंपनियों का दबदबा बढ़ता गया व अन्नदाता किसान की आत्महत्याओं में वृद्धि हुई। जीएम सफल में कोई भी अधिक उपजाऊ वाला जीन नहीं डाला गया है, जो भी उपज आ रही है वह बीज के मूलस्वरूप की ताकत व किसानों के रखरखाव के कारण आ रही है। संघ का कहना है कि उपरोक्त तीनों बीज को अभी तक अनमुति प्राप्त नहीं है। यह तीनों अपने विकासकर्ता के पास सुरक्षित मौजूद हैं। संघ के प्रदेश महासचिव उमेश शर्मा, जिलाध्यक्ष, लेखपाल सिंह, रमेश कुमार, सुभाष ठाकुर, लाल चंद, मेघ सिंह का कहना है प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि इन सारे घटनाक्रम की सही जांच करते हुए दोषियों को दंडित किया जाए। वहीं, जिन कंपनियों ने यह गलत बीज अनधिकृत रूप से किसानों तक पहुंचाया उनको प्रतिबंधित किया जाए।

You might also like